जागरण संवाददाता, पानीपत : आसाराम के खिलाफ दुष्कर्म मामले में मुख्य गवाह सनौली खुर्द के महेंद्र चावला की सुरक्षा में तैनात सिपाही आशीष और अजय को एसपी ने सस्पेंड कर दिया। पिछले दिनों गांव में गली के निर्माण में विवाद के दौरान महेंद्र चावला पर ग्रामीणों ने हमला कर दिया था। सुरक्षाकर्मियों ने आरोपितों को नहीं पकड़ा, इसलिए एसपी ने कार्रवाई की है। दोनों के खिलाफ विभागीय जांच भी होगी।

16 नवंबर की शाम को गांव में महेंद्र चावला के घर के पास गली व नाली का निर्माण चल रहा था। चावला ने ठेकेदार को गली का लेवल ऊंचा न करने को कहा। इसी विवाद में चावला के साथ मारपीट हो गई। चावला ने आरोप लगाया कि रंजिश में पूर्व सरपंच सुरेंद्र शर्मा ने हमला किया। दूसरी ओर, कार्यकारी सरपंच प्रदीप शर्मा ने आरोप लगाया कि महेंद्र चावला ने नाली व गली के निर्माण में बाधा डाली और उसके साथ मारपीट की। सनौली थाना पुलिस ने मामला दर्ज करके 17 नवंबर को आरोपित सुरेंद्र शर्मा को गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया, जहां से उसे जमानत मिल गई।

वर्जन

चावला की सुरक्षा की जिम्मेदारी सिपाही आशीष व अजय की थी। चावला पर हमला अचानक हुआ, लेकिन दोनों पुलिसकर्मियों ने आरोपित सुरेंद्र शर्मा को नहीं पकड़ा।

-सुमित कुमार, एसपी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप