जागरण संवाददाता, समालखा:

जीटी रोड पर अलग-अलग हादसे में एक चौकीदार सहित दो लोगों की मौत हो गई। चौकीदार का शव पोस्टमार्टम के बाद स्वजनों को सौंप दिया गया। जबकि दूसरे की पहचान नहीं होने से शव सिविल अस्पताल के शवगृह में रखा है। पुलिस मुकदमा दर्ज कर आरोपितों की तलाश कर रही है।

हादसा एक- बनारसी सैनी निवासी शास्त्री नगर, गोहना(सोनीपत) ने पुलिस को दी शिकायत में कहा कि उसका 75 वर्षीय पिता जयनरायण सैनी जीटी रोड स्थित बालाजी फैक्ट्ररी में चौकीदार की नौकरी करता था। 23 जनवरी की सुबह ड्यूटी समाप्त होने के बाद 7 बजे घर जाने के लिए झट्टीपुर स्थित सीएनजी पंप के पास जीटी रोड पार कर रहा था। अज्ञात वाहन ने उसके पिता को टक्कर मार दी, जिससे मौके पर उसकी मौत हो गई। जेब में मिले दस्तावेज से उसकी पहचान हुई। स्वजनों को सूचना दी गई।

37 साल के युवक की मौत, नहीं हुई शिनाख्त

वहीं 21 जानवरी की रात एक बजे जीटी रोड पर करहंस के सामने केसर ढाबा के पास अज्ञात वाहन की टक्कर से एक 37 वर्षीय युवक की मौत हो गई। युवक के पास पहचान लायक कुछ नहीं मिला है। शव को पानीपत सिविल अस्पताल के शवगृह में रखवा दिया गया है। ढाबा के कर्मचारी कुनाल वासी झीवरहेडी सबापुर, यमुनानगर की शिकायत पर अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है। जांच अधिकारी वजीर सिंह ने बताया कि सोशल मीडिया और इश्तहार से शिनाख्त का प्रयास किया जा रहा है। युवक चेकदार शर्ट व जर्सी पहने है। तीन दिनों तक पहचान के लिए शव को रखा जाएगा। उसके बाद अंतिम संस्कार किया जाएगा।

Edited By: Jagran