पानीपत, जेएनएन। एक हादसे ने दो जिंदगी छीन लीं। करनाल से समालखा जा रहे दो लोगों को ट्रक ने कुचल दिया। दोनों एक्टिवा पर थे। सीसीटीवी कैमरे लगाने जा रहे थे। यहां सिविल अस्पताल में रोते हुए भांजा अपने स्वजनों को कह रहा था, मामा नहीं रहा। जल्दी आ जाओ। अब वह किसे मामा कहकर बुलाएगा...। मृतकों में एक युवक की नवंबर, 2020 में शादी हुई थी। उसकी पत्नी रूस में एमबीबीएस की पढ़ाई करने गई हुई है।

करनाल के मोहिदीनपुर गांव का 28 वर्षीय प्रवीण राणा करनाल मार्केट कमेटी में डीसी रेट पर कंप्यूटर आपरेटर था। वह एमटेक कर रहा था। सेक्टर 6 का 42 वर्षीय राज चोपड़ा सीसीटीवी कैमरे लगाता था। प्रवीण राणा कुछ महीनों से राज के साथ भी काम करने लगा। शुक्रवार दोपहर को दोनों एक्टिवा पर समालखा जा रहे थे। कहीं पर कैमरे लगाने थे। सिवाह बाईपास के पास एक ट्रक ने दोनों को कुचल दिया। दोनों की मौके पर मौत हो गई। पुलिस ने इनके मोबाइल फोन से इनके दोस्तों को फोन किया। दोस्त ही स्वजनों के साथ सिविल अस्पताल पहुंचे और शवों की पहचान की।

डाक्टर बनने गई है प्रवीण की पत्नी

प्रवीण की पत्नी उर्वशी कुछ दिन पहले ही रूस गई थी। वहां पर एमबीबीएस की पढ़ाई करने गई है। प्रवीण के स्वजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। पिछले वर्ष नवंबर में ही उसकी शादी हुई थी। अस्पताल से कोई प्रवीण की पत्नी को फोन करने की हिम्मत भी नहीं जुटा पा रहा था। प्रवीण पांच भाई-बहनों में सबसे छोटा था। उसका बड़ा भाई चंचल राणा जिला परिषद के वार्ड आठ से निवर्तमान सदस्य है। दूसरे मृतक राज चोपड़ा की दो बेटियां हैं।

पानीपत की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

हरियाणा की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

यह भी पढ़ें: महिला सशक्तिकरण की अजब मिसाल, कोरोना काल में दिखाया ऐसा जज्‍बा, हर कोई कर रहा सलाम

यह भी पढ़ें: हरियाणा का एक गांव ऐसा भी, जहां हर युवा को है सेना में भर्ती का नशा