इस्माईलाबाद (कुरुक्षेत्र), संवाद सहयोगी। हरियाणा में दर्दनाक हादसा हुआ। बोलेरो ने कार को टक्कर मार दी। टक्कर इतनी भयानक थी कि कार पलटते हुए पेड़ से जा टकराई। कुरुक्षेत्र के झांसा से अंबाला शोक सभा में जा रही ननद-भाभी व तीन वर्षीय पौत्री की मौत हो गई है। हादसा झांसा-ठोल मार्ग पर हुआ। हादसे में पीछे से आ रही बोलेरो गाड़ी ने कार में टक्कर मार दी, जिससे कार चालक संतुलन खो बैठा और कार पेड़ से जा टकराई।

हादसे में चालक सहित चार लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस ने शवों को कब्जे में ले लिया और पोस्टमार्टम के लिए एलएनजेपी अस्पताल में भेज दिया है।

शोक सभा में शामिल होने जा रहे थे

गांव झांसा निवासी विशांत मनचंदा उर्फ विशू ने पुलिस को दिए बयान में बताया कि वह अपने पिता चंद्र प्रकाश, माता चांद्र रानी, बुआ कमलेश रानी, चाची कमलेश देवी, भाभी पलक व तीन वर्षीय भतीजी गुणिका दोपहर करीब 12 बजे अंबाला में अपनी रिश्तेदारी में अंबाला के गुरुद्वारा में शोक सभा में शामिल होने के लिए गए थे। जब वे झांसा से ठोल की ओर जा रहे थे तो पीछे से बोलेरो गाड़ी आई और उनकी कार को टक्कर मार दी।

घायलों का निजी अस्पताल में चल रहा इलाज

टक्कर लगने ही वह संतुलन खो बैठा और कार पेड़ से जा टकराई। जिससे कार में सवार सभी लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलावस्था में राहगीरों व एंबुलेंस की मदद से शहर के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया। चिकित्सकों ने उसकी माता चांद रानी, बुला कमलेश व भतीजीत गुणिका को मृत घोषित कर दिया। वहीं उसका व उसके पिता चंद्र प्रकाश, भाभी पलक, चाची कमलेश का इलाज निजी अस्पताल में चल रहा है। 

बुधवार को होगा पोस्टमार्टम

झांसा थाना पुलिस के जांच अधिकारी एएसआइ राजेंद्र ने बताया कि पुलिस ने शिकायत के आधार पर अज्ञात बोलेरो चालक के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। पुलिस ने शवों काे पोस्टमार्टम के लिए एलएनजेपी अस्पताल में भेज दिया है। बुधवार को तीनों का पोस्टमार्टम होगा।

Edited By: Rajesh Kumar