पानीपत, जेएनएन। आनलाइन ठगों ने ठगी का नया तरीका अपना लिया है। अब वे मजदूरों को ठगी का शिकार बना रहे हैं। उन्हें झांसा दे रहे हैं कि कौन बनेगा करोड़पति में आपकी 25 लाख रुपये की लाटरी लगी है। मोबाइल कंपनी ने मोबाइल नंबरों में से लक्की ड्रा निकाला है। ठग विश्वास के लिए अपना आधार कार्ड और आइडी कार्ड पीड़ित के वाट्सएप पर भेज देते हैं। इसके बाद जीएसटी जमाने कराने के नाम पर 

खाता नंबर दे देते हैं। पीड़ित झांसे में आकर खाते में रुपये डलवा देते हैं और ठगे जाते हैं। पीड़ित रुपये मांगते हैं तो जान से मारने की धमकी देते हैं।  ये गिरोह शहर के पांच मजदूरों को ठग चुका है। पुलिस ठगों का काबू नहीं कर पाई है।

केस-एक : 25 लाख की लाटरी जीतने का जांसा देकर 1.12 लाख रुपये ठगे

फैक्ट्री में काम करने वाली बतरा कालोनी की सीता की बेटी को ठग ने काल कर बताया कि वे कौन बनेगा करोड़पति में 25 लाख रुपये की लाटरी जीत चुकी हैं। बेटी ने मां व पिता को इस बारे में अवगत कराया। ठग ने आधार कार्ड और आइकार्ड की फोटों भेज दी। इसके बाद खाता नंबर दे दिया। सीता ने 1.12 लाख रुपये खाते में जमा करा दिए। ठग ने रुपये हड़प कर पीड़ित को जान से मारने की धमकी दी। थाना माडल टाउन पुलिस मामले की जांच कर रही है।

केस-दो : कामगार से 53 हजार रुपये ठगे

फैक्ट्री में काम करने वाले सेक्टर-29 में किराये पर रहने वाले मोहम्मद इम्तियाज के फोन पर 3 जुलाई को कॉल आई। नाम विजय कुमार और राणा प्रताप बताकर कहा कि वे मुंबई से कौन बने करोड़पति से बोल  रहे हैं। उनके मोबाइल नंबर पर 25 लाख रुपये की लाटरी निकली है।  आपके  12.5 लाख और 12.5 लाख दो चेक बनाए हैं। पहले टैक्स के 10500 रुपये जमा कराने होंगे। इम्तियाज से 53 हजार रुपये की ठगी कर ली। पुलिस ठगों को गिरफ्तार नहीं कर पाई है।

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस