जागरण संवाददाता, पानीपत : पुलिस की सीआइए टू टीम ने गीता कालोनी में कार्यालय में चोरी की वारदात में संलिप्त तीसरे आरोपित को दिल्ली जेल से प्रोडक्शन वारंट पर लाने के बाद पुलिस रिमांड के दौरान पूछताछ की। उससे चोरीशुदा छह मोबाइल फोन व वारदात में प्रयोग की गई कार बरामद हुई।

सीआइए टू प्रभारी निरीक्षक वीरेंद्र ने बताया कि 19 दिसंबर, 2020 को सनूज छाबड़ा निवासी सेक्टर-11 सोनीपत ने ने सिटी थाना में केस दर्ज कराया था। उसने बताया था कि गीता कालोनी में उनका मोबाइल का आफिस है, जिसे गन्नौर निवासी प्रदीप संभालता है। 18 दिसंबर की शाम प्रदीप आफिस को बंद कर घर चला गया था। तभी रात में ताले तोड़कर मोबाइल फोन चोरी कर लिए गए।

पुलिस ने मामले में जांच को आगे बढ़ाते हुए पता लगाया कि मोहम्मद शकील व उसके दोस्त संजय निवासी दिल्ली को दिल्ली पुलिस ने दिसंबर 2020 में अवैध हथियार के मामले में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। सीआइए टीम ने दोनों आरोपितों को मार्च में दिल्ली जेल से प्रोडक्शन वारंट पर लाकर पूछताछ की तो आरोपितों ने साथी मनीष निवासी पटेल नगर दिल्ली के साथ मिल मोबाइल आफिस में चोरी की वारदात को अंजाम देने बारे स्वीकारा था।

पुलिस ने उनकी निशानदेही पर चोरीशुदा 10 मोबाइल फोन बरामद कर जेल भेज दिया था। जबकि 30 मोबाइल फोन दिल्ली पुलिस ने आरोपितों के कब्जे से बरामद कर 102 सीआरपीसी के तहत जब्त किए गये थे। निरीक्षक ने बताया कि मनीष को दिल्ली जेल से मंगलवार को प्रोडक्शन वारंट पर लाने के बाद छह दिन के रिमांड पर लेकर पूछताछ की। रिमांड समयावधि समाप्त होने पर शनिवार को अदालत पेश कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

Edited By: Jagran