जेएनएन, पानीपत: दिवाली में आतिशबाजी और सजावट के साथ गिफ्ट न हो तो बात नहीं बनती है। दिवाली के मौके पर आप रिश्तेदारों, मित्रों और पड़ोसी के घर गिफ्ट भी लेकर जाते हैं, तो ये खबर आपके काम की साबित हो सकती है। जानिए आपके लिए गिफ्ट में क्या है खास।

मावा-बेसन की स्वीस्ट्स में मिलावट के बढ़ते मामले देख बेकरी प्रोडक्ट, बड़ी-बड़ी कंपनियों के नमकीन, बिस्किट गिफ्ट पैक और ड्राई फ्रूट्स आदान-प्रदान होने लगे। अब दीपावली गिफ्ट में परिवार के हर सदस्य के टेस्ट का ख्याल रखने का ट्रेंड है। यानि, बाजार में ऐसे फूड गिफ्ट पैक हैं जिसमें जूस, कोल्ड ड्रिंक से लेकर मैगी तक है।

carrot pickle 

बुजुर्गों के लिए भी खास
दीपावली पर मुरब्बा...चौकिएगा नहीं। परिवार के सदस्यों, खासकर बुजुर्गों के लिए इस बार यह खास मिठाई है। मुंह मीठा तो होगा साथ में सेहत भी बनेगी। मुरब्बा पैक में आंवला, सेब, मिक्स फ्रूट्स और वेजिटेबल के अलावा पान-खजूर भी है। मात्र 180-200 रुपये प्रति किलोग्राम में इससे बेहतर मिठाई नहीं हो सकती। अधिकांश परिवार इसे खरीद भी रहे हैं।

juice

बीमार है कोई अपना तो इस गिफ्ट से रखें ख्याल
परिवार का कोई सदस्य बीमार है तो ये मत सोचिए कि बाजार में उनका मुंह मीठा नहीं किया जा सकता। इस दिवाली उनके लिए रियल, ट्रोपिकाना जैसी कंपनियों के जूस पैक आए हुए हैं। तीन लीटर का गिफ्ट पैक 350 रुपये और दो लीटर गिफ्ट पैक 250 रुपये में बिक रहा है। बॉस्केट गिफ्ट पैक के तो क्या कहने। 20-30 आइटम की इस बॉस्केट में लस्सी, कोल्ड ड्रिंक, जूस, नमकीन, कुरकुरे, चाकलेट, चिप्स, बिस्किट और कई स्वाद में मीठी गोलियां हैं। यह पैक घर के हर सदस्य के स्वाद को ध्यान में रखते हुए तैयार भी कराया जा रहा है। दीपों के इस खास पर्व पर बच्चों के लिए भी खास फूड पैक खरीदने की होड़ है। इस बार मैगी का गिफ्ट पैक खूब खरीदा जा रहा है।

chocklate

बच्चों के लिए भी बहुत कुछ
मात्र 100 रुपये के इस पैक में आटा नूडल्स, पास्ता और मसाला नूडल्स सहित कुल नौ छोटे पैकेट हैं। इस दिवाली  हल्दीराम, परिणिति, क्रोनिका, सनफीस्ट, प्रिया गोल्ड और बोन जैसी तमाम बड़ी कंपनियों ने नमकीन-बिस्किट की ढ़ेरों वैरायटी उतार दी हैं। एक्सपायरी डेट तीन से छह माह होने के कारण पैक्ड रसगुल्ला और सोहनपापड़ी की डिमांड भी पहले की भांति बनी हुई है।

diwali gift

पानीपत में सजा है बाजार।

पैक्ड फूड आइटम्स पर अब ज्यादा भरोसा
मॉडल टाउन के स्टोर संचालक मनोज कुमार ने बताया कि सामान्य दिनों में हलवाई की बनी मिठाई खूब बिकतीं हैं। ग्राहक अब सेहत के प्रति ज्यादा सतर्क है।, मिठाई भी प्रतिष्ठित दुकान से ही खरीदता है। खास पर्व पर मिठाई से अधिक बड़ी कंपनियों के पैक्ड फूड में ज्यादा भरोसा किया जाता है। खास बात यह कि मिठाई जल्द खराब हो जाती है, जबकि  पैक्ड आइटम की एक्सपायरी डेट तीन से छह माह तक होती है।

Posted By: Ravi Dhawan

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस