पानीपत, जेएनएन। गर्मी के सीजन में चैन की नींद लोगों को बैचेन करने वाली साबित हो रही है। क्योंकि चोरी की घटनाएं जो बढऩे लगी हैं। कुछ ऐसा ही पट्टीकल्याणा निवासी एक परिवार के साथ हुआ। जब पूरा चैन की नींद सोया हुआ था तो चोर बगल के कमरे में रखे अलमारी व संदूक को खंगाल रहे थे। जोकि अलमारी व संदूक में रखे करीब 10 लाख रुपये कीमत के सोने व चांदी के जेवरात ले गए।

अगले दिन सुबह चैन की नींद खुली तो सामान बिखरा व जेवरात गायब देख बैचेनी बढ़ गई। सूचना समालखा थाना पुलिस को दी गई। पुलिस ने मौके का मुआयना करने के बाद मकान मालिक भूप सिंह की शिकायत पर केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पीडि़त का कहना है कि जेवरात बेटी की शादी के चलते लाकर रखे थे।

खाना खाकर सोया था परिवार

पïट्टीकल्याणा निवासी भूप सिंह ने पुलिस शिकायत में बताया कि रविवार को देर शाम परिवार के सभी सदस्यों ने खाना खाया और रात 11 बजे के करीब सभी सो गए। तभी देर रात मकान में चोर घुसे और कमरे में रखे संदूक व अलमारी का ताला तोड़कर उसमें रखे सोने व चांदी के जेवरात चोरी कर ले गए। सोमवार सुबह करीब चार बजे उनकी नींद खुली तो बगल के कमरे के अंदर सामान बिखरा मिला। अलमारी व संदूक से जेवरात गायब देख दंग रह गए। तुरंत सूचना थाना पुलिस को दी।

बेटी की शादी के लिए बनवाए थे

भूप सिंह के मुताबिक कुछ दिन बाद बेटी की शादी होनी है। उसी को लेकर जेवरात बनवाकर घर पर रखे हुए थे। उसने बताया कि चोर अलमारी व संदूक से एक सोने की अंगूठी, एक गले का हार (8 तोले), गले की चेन, कानों के कुंडल व 14 चांदी के सिक्के आदि जेवरात थे। जिनकी कीमत करीब 10 लाख रुपये हैं। उसने चोरों का पता लगा चोरी किए जेवरात बरामद करने के साथ सख्त कार्रवाई की मांग की है।

Edited By: Anurag Shukla