पानीपत, जागरण संवाददाता। पानीपत शहर में चोरी की घटनाएं थम नहीं रही है। चोर गिरोह सक्रिय है। जो एकाएक अलग अलग जगहों पर चोरी की घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं। इससे लोग परेशान है। बीती रात भी चोर देव नगर स्थित एक प्राइवेट स्कूल में घुसकर हजारों रुपये कीमत का सामान चोरी कर ले गए। वहीं भारत नगर स्थित जिम से 15 हजार रुपये चोरी हो गए।

प्राइवेट स्कूल से सामान चोरी

माडल टाउन निवासी मस्तान सिंह ने पुराना औद्योगिक थाना पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उनका देवर नगर स्थित गैस गोदाम रोड पर उनका पहली से दसवीं तक का सिद्धार्थ पब्लिक स्कूल है। 16 सितंबर को रोजाना की तरह सुबह वो स्कूल आया तो मैन गेट व अंदर आफिस का कूंडा टुटा हुआ मिला। आफिस में अंदर जाकर चैक किया तो एक इनवर्टर, दो बैटरी, एक एचपी कंपनी का लैपटाप, इम्पलीफायर, आठ कैमरे, एक एलईडी (32 ईंच), नौ म्यूजिक सिस्टम व अन्य जरूरी कागजात चोरी मिले। जिसकी सूचना संबंधित थाना पुलिस को दी। पुलिस मौके पर पहुंची। मस्तान सिंह का कहना है कि अज्ञात व्यक्ति स्कूल में घुसकर हजारों रुपये कीमत का सामान चोरी कर ले गए हैं। पता लगा सामान बरामद करने के साथ सख्त कार्रवाई की जाए। वहीं पुलिस ने उनके बयान पर अज्ञात लोगों के खिलाफ चोरी का केस दर्ज कर तलाश शुरू कर दी है।

आटो में लोड कर ले गए

स्कूल संचालक के मुताबिक उस रात चोरों ने उनके बगल वाले एक गोदाम के भी ताले तोड़े। वहां पर सिक्योरिटी कंपनी के गार्ड लगे हुए हैं, जोकि हर दो घंटे में एक बार चक्कर लगाते हैं। जिस समय सिक्योरिटी गार्ड नहीं थे, तभी चोरों ने देर रात एक से तीन बजे के बीच तक उक्त घटना को अंजाम दिया है। उन्होंने बताया कि स्कूल से करीब 200 किलोमीटर दूर एक युवक बाइक पर खड़ा दिख रहा है। जबकि तीन पैदल चलकर आए हैं। उनका कहना है कि चोर सामान आटो में लोड करके ले गए। उन्होंने पहले स्कूल के मैनगेट का और फिर अंदर आफिस का ताला तोड़ सामान चोरी किया।

हैल्पर ने जिम संचालक के 15 हजार चुराए

शहर के भारत नगर निवासी कृष्ण ने किला थाना पुलिस को शिकायत दी है। उसने बताया कि भारत नगर में ही जिम खोल रखी है। जहां समीर निवासी रामनगर को हैल्पर के तौर पर रखा हुआ था। 10 सितंबर को जिम करने वाले लड़कों से मासिक फीस के करीब 15 हजार रुपये लेकर मेज के दराज में रख वो घर चला गया। जब वापस आया तो न उसे समीर जिम में मिला और न मेज की दराज में रखे पैसे। कृष्ण के मुताबिक वो कई दिन तक समीर की तलाश करता रहा, लेकिन उसका कोई पता नहीं चल सका। उसका कहना है कि दराज से रुपये समीर ने ही चोरी किए हैं। उसका पता लगा सख्त कार्रवाई की जाए।

Edited By: Anurag Shukla