जागरण संवाददाता, पानीपत : गांजबड़ की पुलिया के पास पुलिस और बदमाशों में मुठेभड़ हो गई। दोनों तरफ से तीन गोलियां चली। पुलिस ने रोहतक के रिठाल के शनि देव उर्फ कुक्की गैंग के शूटर व 25 हजार रुपये के इनामी मोस्टवांडेट बदमाश कवि गांव के अमित अर्फ मिता और करनाल के जयसिंहपुरा के साहिल को गिरफ्तार किया। उनके कब्जे से दो पिस्तौल और 37 रौंद बरामद किए। दोनों आरोपितों को शुक्रवार को अदालत में पेश कर रिमांड पर लिया जाएगा। तब उनसे पूछा जाएगा कि वे किसी वारदात को अंजाम देने वाले थे। घटना करीब 7:55 बजे की है। 

सीआइए-तीन प्रभारी एसआइ छबील सिंह  ने बताया कि वह अपनी टीम के साथ पेप्सी पुल के पास गश्त पर थे। तभी सूचना मिली कि कुख्यात अपराधी कवि गांव का अमित अपने साथी के साथ बाइक पर बैठकर कोहंड गांव से गांजबड़ आएंगे और किसी वारदात को अंजाम देंगे। वह गाड़ी लेकर गांजबड़ गांव की पुलिया पर पहुंचे और वाहनों की चेकिंग करने लगे। सामने से आ रही बाइक को रुकने का इशारा किया। युवक ने बाइक को मोडऩे का प्रयास किया और पीछे बैठे युवक ने फायर कर दिया। गोली हवलदार बिजेंद्र के दाहिने कान के पास से निकल गई। दोनों युवक बाइक को छोड़कर कोहंड गांव की तरफ भागने लगे। उन्होंने युवकों का पीछा किया तो फिर से एक युवक ने फायर किया। जवाब में उन्‍होंने भी युवकों की तरफ एक फायर किया। पीछा करके दोनों युवकों को काबू किया। इनकी पहचान अमित और साहिल के रूप में हुई। अमित बाइक के पीछे बैठा था। उससे मिले बैग से दो पिस्तौल और 38 रौंद बरामद किए गए। बाइक भी जब्त कर ली है। थाना सदर पुलिस ने पुलिस पर जानलेवा हमला करने सहित सात धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया। 

सतबीर हत्याकांड का आरोपित है अमित
एसआइ छबील सिंह ने बताया कि 6 जून 2017 में सोनीपत के आहुलाना के सतबीर की गोली मारकर हत्या कर दी थी। इस वारदात को कुक्की गैंग के राकेश, अशोक उर्फ हूटर, संजीत और अमित ने अंजाम दिया था। सितंबर 2017 में अमित उर्फ मीता व अशोक उर्फ हूटर के साथ रिठाल के अंकित की रोहतक में लाढ़ोत रोड पर गोली मारकर हत्या की। इस मामले में अमित पर 25 हजार रुपये का इनाम है। मई 2018 में अमित उर्फ मीता व सुनील उर्फ शीला के साथ मिलकर नया गांव पंजाब में सौरभ उर्फ मेड्डी का गोलियां बरसा कर हत्या कर दी थी। अमित पर तीन हत्या सहित एक दर्जन मामले दर्ज हैं। बता दें की कुक्की और आहुलान गांव के अमरजीत में गैंगवार चल रहा है। दोनों ही गैंग के सात से ज्यादा गुर्गे मारे जा चुके हैं।

Posted By: Ravi Dhawan

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस