जागरण संवाददाता, समालखा : आशादीप आदर्श हाई स्कूल करहंस में शनिवार को आयोजित विज्ञान प्रदर्शनी में विद्यार्थियों ने पर्यावरण, कूलर, जलाशय, जंगल, टेलीस्कोप आदि के मॉडल तैयार कर प्रदर्शनी की शोभा बढ़ाई। सरपंच के ससुर सुल्तान ¨सह ने दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ कर बाल वैज्ञानिकों द्वारा तैयार मॉडलों की सराहना की। गांव के समाजसेवी और प्रबुद्ध वर्गो ने भी प्रदर्शनी का अवलोकन किया। सुल्तान ¨सह ने कहा कि बच्चों में जन्म से ही वैज्ञानिक प्रतिभा की सोच विकसित होती है। स्कूल का काम बच्चों को अवसर देकर उनकी सोच को आगे बढ़ाना होता है। उन्होंने कहा कि होमी जहांगीर भाभा, सर आइजक न्यूटन, गैलेलियो, थामसन, मोसले, मेंडलीफ जैसे वैज्ञानिकों में विज्ञान के प्रति शुरू से गहरी रुचि थी। बड़े होने के उपरांत उन्होंने बड़ी खोज कर दुनिया को सौगात दिया। पर्यावरण, स्वच्छता और गरम व ठंडा हवा देने वाले कूलर लोगों के लिए आकर्षण का केंद्र बने रहे। लोगों ने मॉडल तैयार करने वाले विद्यार्थियों सहित उनके शिक्षकों की सराहनी की। प्रबंधक वीरेंद्र ¨सह सहरावत ने कहा कि बच्चे देश के भविष्य हैं। इनकी सोच को गति देना संस्था का कर्तव्य है। उन्होंने रुचि के अनुसार सभी को मॉडल बनाने के लिए कहा था। शिक्षकों ने बच्चों का मार्गदर्शन किया। उन्हें उनके मॉडल के बारे में बताया। सभी के संयुक्त प्रयास से बच्चों ने मॉडल को मूर्त रूप दिया।

Posted By: Jagran