पानीपत/कैथल, जेएनएन। कैथल के कोर्ट परिसर में पेशी पर आए युवक पर तीन युवकों ने चाकू और बर्फ तोडऩे वाले सुए से हमला कर दिया। चीख पुकार सुन किसी मामले में गवाही देने आईं महिला थाना प्रभारी रेखा रानी ने पुलिस कर्मचारियों की मदद से आरोपितों को धर दबोचा। तीनों आरोपितों को सिविल लाइन थाना ले जाया गया। वहीं घायल युवक को सरकारी अस्पताल ले जाया गया। एसपी वसीम अकरम ने पहले कोर्ट परिसर और फिर जिला नागरिक अस्पताल का दौरा किया। 

कलायत निवासी प्रदीप कुमार ने बताया कि उसका भाई हुकमचंद उसके साथ सुबह घर से कोर्ट में पेशी पर आया था। एडीजे हुकम सिंह की कोर्ट में पेशी थी। कोर्ट के बाहर खड़े होकर दोनों भाई केस की सुनवाई शुरू होने का इंतजार कर रहे थे। इसी दौरान हमलावर प्रदीप, सागर और सोमवरी ने चाकू और सुए से हमला कर दिया। हुकमचंद खून से लथपथ होकर जमीन पर गिर पड़ा। 

मच गई चीख पुकार
कोर्ट परिसर में हमला होते देख लोग चीख पड़े। यह देख महिला थाना प्रभारी रेखा और अन्य पुलिस कर्मचारियों ने भाग रहे युवकों को दबोच लिया। इस दौरान हमलावरों ने पुलिस कर्मचारियों पर भी हमले का प्रयास किया। आरोपित पीडि़त युवक को जान से मारने की धमकी दे रहे थे। घायल के भाई ने कहा कि आरोपित उसके भाई को गवाही देने से रोकना चाहते थे, इसी नीयत से यह हमला किया गया है। 

ये था मामला
कलायत के वार्ड नंबर 10 निवासी हुकमचंद घर के पास ही ज्वैलर्स, मोबाइल सेल और रिपयेर का काम करता है। एक जून 2018 को सुबह जिम जा रहा था। कपिल मुनि कॉलेज के पास बाइक सवार तीन युवकों ने लोहे की रॉड से हमला कर दिया। इसके बाद दूसरे युवक ने चाकू से वार किया। कुछ लोग वहां आए तो  हमला करने वाले भागने लगे। इस दौरान एक युवक को दबोच लिया था, जिसकी पहचान नरवाना निवासी प्रदीप के रूप में हुई थी। लोगों ने पकड़े गए युवक के साथ मारपीट की। वीडियो भी बना लिया था बाद में इसे वायरल भी कर दिया।  इसी कारण प्रदीप शिकायतकर्ता हुकमचंद से रंजिश रखे हुए था। सोमवार को मौका मिलने पर उसने अपने दो अन्य साथियों के साथ कोर्ट में हुकमचंद पर हमला कर दिया। 

हथियार लेकर कोर्ट में कैसे पहुंच गए हमलावर
कोर्ट परिसर में पेशी पर आए युवक पर तेजधार हथियार से हमला करने को लेकर सुरक्षा में भी बढ़ी चुक माना जा रहा है। लोगों का कहना है कि कोर्ट परिसर इतनी सुरक्षा के बावजूद हथियार लेकर आरोपितों का कोर्ट के बाहर तक पहुंचना यहां ड्यूटी पर तैनात पुलिस कर्मचारियों की लापरवाही को दर्शाता है। कोर्ट परिसर के अंदर प्रवेश करते ही पुलिस कर्मचारी आने-जाने वालों की जांच करते हैं, इसके बाद ही अंदर जाने दिया जाता है। ऐसे में हमला करने वाले युवक वहां तक कैसे पहुंचे गए यह जांच का विषय है। 

पेशी पर आए एक युवक पर जानलेवा हमला करने के मामले में पुलिस ने तीन आरोपितों को पकड़ लिया है। पुलिस मामले में जांच कर रही है। घायल को पुलिस कस्टडी में पीजीआई चंडीगढ़ रेफर किया गया है। हमला करने वाले तीन थे या संख्या ज्यादा थी इसे लेकर आरोपितों से पूछताछ की जा रही है। पुलिस ने मौके से एक छोटा चाकू व एक सुआ बरामद किया है। 
वसीम अकरम, एसपी, कैथल। 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Anurag Shukla