जागरण संवाददाता, समालखा : 220 केवीए पावर हाउस में लगे 20 एमवीए के इन्क¨मग ट्रांसफार्मर टी वन के खराब होने से बिजली व्यवस्था चरमरा गई है। मंगलवार को रेलवे लाइनपार आधा दर्जन कॉलोनीवासियों ने पावर हाउस में पहुंच रोष जताया। वहीं एक्सईएन ने ट्रांसफार्मर के खराब होने पर उक्त समस्या पैदा होने का हवाला देकर जल्द ही नया ट्रांसफार्मर रखवाकर सप्लाई बहाल करने का आश्वासन दिया।

बता दें कि समालखा पावर हाउस में चार इन्क¨मग ट्रांसफार्मर लगे है। टी वन ट्रांसफार्मर से 11 फीडर, टी टू से 33 केवीए छदिया पावर हाउस, टी थ्री से 9 फीडर व टी फोर से डिकाडला, मनाना पावर हाउस के अलावा नेस्ले व आरके रेयान को सप्लाई होती है। लेकिन शनिवार शाम को टी वन ट्रांसफार्मर अचानक खराब हो गया। उसके बाद से निगम उससे जुड़े आश्रम, जीटी, सिटी, जौरासी डीएस, किवाना एपी, लघु सचिवालय, लाइन पार, एचएसआइआइडीसी, चरक, पाइट फीडर को लगातार टी थ्री ट्रांसफार्मर से रोटेशन से सप्लाई दे रहा है। इसके कारण लोगों को चार से पांच घंटे ही बिजली मिल रही है।

उद्योगपतियों और व्यवसायियों में रोष : बिजली सिस्टम से परेशान होकर उद्योगपति, व्यवसायी से लेकर आम उपभोक्ता निगम अधिकारियों को कोस रहे हैं। कस्बावासी संदीप गुप्ता, ओमदत्त आर्य, राधेश्याम, सुखवीर वर्मा, सोनू, चंद्रप्रकाश ने कहा कि पिछले एक माह से उनको सुचारू रूप से बिजली नहीं मिल पा रही है, जिसके कारण उनके घरेलू कामकाज प्रभावित हो रहे है। लाखों रुपये बिजली बिल भरने के बाद जरूरत के हिसाब से बिजली नहीं मिल पा रही है। निगम अधिकारी झूठे आश्वासन देकर शांत करा देते है।

कॉलोनीवासियों ने जताया रोष : पावर हाउस पहुंचे पार्षद राजेश ठाकुर, कृष्ण, संदीप, बिजेंद्र, प्रदीप गुर्जर, कन्हैया, हरिओम ने बताया कि वह सभी रेलवे लाइनपार के वासी है। उनकी सप्लाई 220 केवीए पावर हाउस से होती थी। लेकिन ट्रांसफार्मर में खराबी बताकर छदिया पावर हाउस से जोड़ दी गई है। पिछले तीन दिन में मुश्किल से उनको सात से आठ घंटे बिजली मिल पाई है। पूरी रात गर्मी में जागना पड़ रहा है। ¨सगल फेस में लाइट आने के कारण मोटर न चल पाने पर पीने के पानी तक का संकट छाया पड़ा है। उन्होंने एक्सईएन से मिलकर छदिया की बजाय सिटी फीडर से सप्लाई जोड़ने की बात कही, ताकि उनको ठीक से बिजली मिल सके।

हवन यज्ञ भी बेकार :

पिछले एक माह से पावर हाउस में लगातार आ रही खराबी निगम कर्मियों के लिए सिरदर्द बन चुकी है। कभी किसी ट्रांसफार्मर में खराबी तो कभी कुछ हो रहा है। सबकुछ ठीक ठाक चल सके, इसको लेकर पिछले दिनों पावर हाउस में हवन यज्ञ भी कराया गया। लेकिन यज्ञ से लगातार यंत्रों में आ रही खराबी भी रोकी नहीं जा सकी।

आ चुका है ट्रांसफार्मर : एक्सईएन डीएस छिक्कारा ने कहा कि इन्क¨मग टी वन ट्रांसफार्मर के खराब होने के कारण उक्त समस्या पैदा हुई है। फिलहाल हम टी थ्री ट्रांसफार्मर से रोटेशन के हिसाब से सभी फीडर को सप्लाई दे रहे है। नया ट्रांसफार्मर आ चुका है। जल्द ही उसे रखवाकर सप्लाई बहाल करा दी जाएगी।

Posted By: Jagran