जागरण संवाददाता, पानीपत : सर्कल के तीनों डिविजनों ने टारगेट से अधिक बिजली चोरी पकड़ी है। सर्कल में 551 चोरियां पकड़ी गई है, जिन पर 219.06 लाख रुपये जुर्माना लगाया गया है। रिकवरी के लिए सभी को नोटिस भेजा गया है। जुर्माना नहीं भरने पर अगले बिल के साथ इसे जमा करने का मौका दिया जाएगा। फिर भी बिल नहीं भरने पर कनेक्शन काटे जाएंगे।

उल्लेखनीय है कि सिटी, सब अर्बन और समालखा डिविजन को जून माह में चोरी से 50-50 लाख रुपये वसूली का टारगेट दिया गया था। तीनों डिवीजन ने सब डिविजन स्तर पर टीम गठित कर बिजली चोरी पकड़ी। सब अर्बन सिटी डिविजन 249 चोरी पकड़ने के साथ पहले, समालखा डिवीजन 167 चोरी पकड़ने के साथ दूसरे और सिटी डिविजन 135 चोरी पकड़ने के साथ तीसरे नंबर पर रहा है। 1.50 करोड़ के टारगेट में 2.19 करोड़ की चोरियां पकड़ी हैं। किस सब डिविजन ने पकड़ी कितनी चोरियां

सिटी-26, मतलौडा-78, सनौली रोड-31, सब अर्बन-93, मतलौडा-86, इसराना-70, समालखा-30, बिहौली-33, छाजपुर-54 और बापौली ने 50 चोरियां पकड़ी है। सब अर्बन चोरी पकड़ने में सबसे अव्वल तो सिटी सबसे फिसड्डी रहा है। चोरी की इस रकम से निगम को लाइन लास की भरपाई में मदद मिलेगी। अधीक्षण अभियंता डीएस छिक्कारा ने बताया कि निगम का यह अभियान जारी रहेगा। जुलाई में डिविजन को नया टारगेट दिया जाएगा। हमने पिछले माह टारगेट से डेढ़ गुना अधिक चोरी पकड़ी है। रिकवरी के प्रयास किए जा रहे हैं। पीक सीजन होने से चोरी पकड़ने की रफ्तार कुछ धीमी है, जिसे तेज किया जाएगा।

Edited By: Jagran