यमुनानगर, जागरण संवाददाता। रेलवे अंडरपास पर कार की टक्कर लगने से घायल 26 वर्षीय नाजमा की इलाज के दौरान मौत हो गई। शुक्रवार की रात को वह पति अफसर अली के साथ सैर कर रही थी। इसी दौरान पीछे गति से आई कार ने टक्कर मार दी थी। देर रात उसकी मौत हो गई। वहीं इस मामले में मृतका के स्वजनों ने पति अफसर अली पर गंभीर आरोप लगाए। आरोप है कि पति ने ही साजिश के तहत उसे मरवाया है। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराया।

मूल रूप से उत्तर प्रदेश के मुराबादाबाद जिले के गांव जाफराबाद निवासी अफसर अली यहां रेलवे पुलिस सुरक्षा बल (आरपीएसएफ) नौवीं वाहिनी में एसआइ के पद पर तैनात हैंं। फिलहाल पत्नी नाजमा के साथ वह पृथ्वीनगर कालोनी में किराये के मकान में रह रहे हैं। पुलिस को दी शिकायत में उन्होंने बताया कि शुक्रवार की रात करीब नौ बजे वह खाना खाने के बाद पत्नी नाजमा के साथ रेलवे अंडरपास के पास सैर कर रहे थे। तभी पीछे से गति से कार आई और पीछे से उन्हें व पत्नी को टक्कर मार दी। टक्कर लगते ही वह उछलकर सड़क पर जा गिरे। शोर शराबा होने पर आसपास के लोग एकत्र हुए। इतने में आरोपित चालक कार लेकर फरार हो गया। हादसे में नाजमा गंभीर रूप से घायल हो गई थी। उसे निजी अस्पताल में दाखिल कराया गया था। शुक्रवार की रात करीब दो बजे नाजमा की इलाज के दौरान मौत हो गई।

स्वजनों ने अफसर अली पर लगाए आरोप

फर्कपुर थाना पुलिस ने नाजमा का शव पोस्टमार्टम हाउस में रखवाया। जहां नाजमा के स्वजन भी पहुंच गए थे। मृतका के जीजा मोहम्मद रईस ने बताया कि उनकी साली का अफसर अली से एक वर्ष पहले प्रेम विवाह हुआ था। आरोप है कि वह नाजमा के साथ मारपीट करता था। इस संबंध में महिला थाना पुलिस को भी अप्रैल माह में शिकायत दी थी। जहां पर दोनों पक्षों को बुलाया गया था। उस समय अफसर अली ने समझौता कर लिया था। इसके बाद से ही नाजमा उसके साथ रह रही थी। इस समय नाजमा पांच माह की गर्भवती भी थी। आरोप है कि अफसर अली ने ही यह हादसा कराया है।

Edited By: Anurag Shukla