जागरण संवाददाता, पानीपत : नियम 134 ए में स्कूल आवंटन में त्रुटियां उजागर हो रही है। विभाग ने मॉडल टाउन के पते पर एक छात्रा को स्कूल अलॉट कर दिया। उस पते पर स्कूल का नामोंनिशा नहीं है। अभिभावक अब बिटिया को दाखिला दिलाने के लिए विभाग के अधिकारियों से गुहार लगा रहा है। अधिकारी उन्हें मुख्यालय से अलॉटमेंट होने की बात कह रहे हैं।

किशनपुरा निवासी बिजेंद्र सिंह छोटे कारोबारी हैं। उन्होंने पहली बार इस रियायती दाखिले के लिए बिटिया का फार्म भरवाया। स्कूल अलॉटमेंट में पांच स्कूलों का नाम दिया। इनमें एक एलएल मुदगिल स्कूल भी शामिल है। द्वितीय अलॉटमेंट में उन्हें यह स्कूल मिला। शिक्षा विभाग के रिकार्ड में इस स्कूल का पता मॉडल टाउन रामशरणम के पास दिखाया गया है। सोमवार को दाखिले की अंतिम तारीख होने से स्कूल ढूंढ़ने में दो घंटे लग गए। रामशरणम के पास स्कूल न मिलने पर शिक्षा विभाग के अधिकारियों से फोन कर पूछा। पहले तो मॉडल टाउन में ही स्कूल होने की बात कही गई। बाद में बताया गया कि इस नाम से स्कूल मुखीजा कालोनी में है। बिजेंद्र सिंह जब इस कालोनी में पहुंचे तो स्कूल देख कर दंग रह गए। उन्होंने दैनिक जागरण को बताया कि नीचे शॉपिग कांप्लेक्स चल रहा है उपर के कमरों में स्कूल है। विभाग के अधिकारियों को इसका पता भी नहीं है। निदेशालय में वरिष्ठ अधिकारियों से मुलाकात कर बिटिया का स्कूल दूसरे जगह आवंटित करने की गुहार लगाएंगे। वर्जन :

स्कूल के अलॉटमेंट में जिला सतर पर किसी अधिकारी का रोल नहीं है। कंप्यूटरीकृत व्यवस्था में स्कूलों का अलॉटमेंट हुआ है। जिन्हें स्कूल अलॉट हुआ वो मंगलवार को बीईओ कार्यालय में संपर्क कर सकते हैं। लेकिन स्कूल किसी सूरत में नहीं बदला जाएगा।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप