जागरण संवाददाता, पानीपत

प्रसिद्ध पंजाबी गायक शैरी मान अपने पहले ही गाने से स्टार बन गए थे। एक बार तो इसका यकीन खुद शैरी मान और उनके साथियों को भी नहीं हुआ था। यहां तक की जिस ऑफिस में काम करते थे, वहां के बॉस और वहां के गार्ड तक को उन पर यकीन नहीं हुआ। पढि़ए शैरी मान की स्टार बनने की कहानी, खुद उनकी ही जुबानी।

गायक बनने का शौक शुरू से ही था। पढ़ाई भी करनी थी। चंडीगढ़ से 12वीं पास करने के बाद मोगा से सिविल इंजीनिय¨रग की। जब मैं गाता तो सारे दोस्त मुझे सुनते। एक दिन यार अनमुल्ले..गाया और यूट्यूब पर डाल दिया। कभी सोचा नहीं था ये गाना इतना हिट हो जाएगा। हर जगह ये गाना बज रहा था। एक दिन मैं अपने ऑफिस के नीचे आया तो गार्ड ये गाना सुन रहा था। मैंने उससे पूछा कि ये कहां से मिला तो उसने कहा कि हिट गाना है जी, आप भी सुनो। उसे बताया कि ये मैंने गाया है तो उसे विश्वास ही नहीं हुआ। बड़ी कोशिश की, फिर भी वह नहीं माना। गाना हिट हो गया तो मैंने सोचा अब गायकी में ही कॅरिअर बनाऊं। मैं इस्तीफा लेकर बॉस के पास पहुंच गया। बॉस को मेरे गाने के बारे में पता नहीं था। इस्तीफा देखकर उन्हें लगा कि मैं जानबूझकर ऐसा कर रहा हूं। उन्हें किसी और कंपनी में जाने का शक हुआ। तब मेरी सैलरी दस हजार रुपये थी। बॉस ने कहा कि शैरी ज्यादा सैलरी मेरे से ले लो। दूसरी कंपनी ज्वॉइन न करो। बॉस को बहुत समझाया, पर वे नहीं माने। उन्हें लैपटॉप पर यूट्यूब पर अपना गाना सुनाया। तब मैंने तीन महीने की छुट्टी ली और कहा कि हिट हो गया तब इस्तीफा मंजूर कर लेना। उसके बाद पीछे मुड़कर नहीं देखा।

बॉलीवुड पर : मुझे गायकी से प्यार है। एक्टिंग भी की है। मुंबई में संघर्ष बहुत है। मैं चाहता हूं कि बॉलीवुड में एंट्री मिली पर अभी जाने की इच्छा नहीं है।

मनपसंद गायक - वैसे मैं सभी गायकों को सुनना पसंद करता हूं। खास की बात करें गुरदास मान और बब्बू मान पसंदीदा हैं। गुरदास मान को सुनकर ही तो गाना शुरू किया है। लड़कियों में मिस पूजा अच्छा गाती हैं।