जागरण संवाददाता, पानीपत : दो साल से फरार शराब तस्कर शामली के कोटला गांव के सलीम को स्पेशल इनवेस्टिगेशन एजेंसी (सीआइए-टू) ने मंगलवार शाम को डाहर चौक से गिरफ्तार किया। सलीम को अदालत में पेश कर रिमांड पर लिया गया है। सलीम ने ट्रक में साबुन की पेटियों के नीचे शराब की पेटियां छिपा रखी थी और शराब को बिहार ले जा रहा था। सीआइए-टू ने तब ड्राइवर को काबू कर लिया था। उक्त अवैध शराब तस्करी के मामले में इसके साथी आरोपी ट्रक ड्राइवर सलमान पुत्र रहिश निवासी खालापार जिला मुजफरनगर युपी को फरवरी 2019 मे गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत जेल भेजा जा चुका है ।

सीआइए टू प्रभारी इंस्पेक्टर विरेंद्र सिंह ने बताया कि 30 जनवरी 2019 को सीआइए-टू को सूचना मिली कि उत्तराखंड नंबर के ट्रक में साबुन की पेटियों के नीचे अवैध अंग्रेजी शराब छिपा रखी है। ट्रक चंडीगढ़ से दिल्ली की तरफ जा रहा है। शराब बिहार ले जाई जाएगी। पुलिस को चकमा देने के लिए तस्करों ने गाड़ी की आगे की नंबर प्लेट के नंबर मिटा रखे थे। जीटी रोड पर बरसत मोड़ पर ट्रक को काबू कर लिया। आरोपित चालक फरार हो गया था। ट्रक से शराब की 160 पेटियां बरामद की गई। थाना शहर पुलिस ने मामला दर्ज किया। दो सप्ताह बाद आरोपित ट्रक चालक मुजफ्फरनगर के खालापार के सलमान को काबू किया। सलमान ने बताया कि मुख्य शराब तस्कर सलीम है। सलीम बार-बार ठिकाने बदल रहा था।

ट्रक चालक सलमान को पांच हजार रुपये एडवांस दिए थे

प्रारंभिक पुलिस पूछताछ में आरोपित सलीम ने बताया कि वह अवैध शराब तस्करी का कार्य काफी समय से कर रहा है। उसने ट्रक में साबुन की पेटियों के नीचे शराब की पेटियां छिपा रखी थी। शराब बिहार ले जानी थी। इसकी एवज में ट्रक चालक सलमान को पांच हजार रुपये एडवांस दिए थे। 15 हजार रुपये बिहार मे शराब पहुंचने के बाद देने थे।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021