जागरण न्यूज नेटवर्क, पानीपत : सेक्टर 16 निवासी संसार गर्ग पुत्र ईश्वर ने रात 10.25 पर पुलिस को शिकायत दी कि अंकित गर्ग निवासी प्रीतम नगर ने गाड़ी से उसका पीछा किया। उसे सेक्टर 16 के एक होटल के पास रोककर अंकित ने लूटपाट की और मौके से फरार हो गया। मामले की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची लेकिन सुबह होते-होते मामला आपसी लेनदेन में तब्दील हो गया।

चौकी इंचार्ज अनिल मलिक ने बताया कि दोनों पक्षों को बुला कर जब पूछताछ की तो पाया कि यह लूट का मामला नहीं है। फिर भी क्योंकि शिकायत लूट की थी, इसलिए पुलिस ने हर एंगल से जांच की। इसके बाद शाम को साढ़े पांच बजे अनाज मंडी के मौजिज आढ़तियों के बीच समझौता करा मामला निपटा दिया।

लेनदेन के मामले में हुआ था विवाद

पुलिस की जांच टीम ने बताया कि संसार और अंकित गर्ग में आपस में लेनदेन था। इसी को लेकर रात को विवाद हुआ था लेकिन पुलिस को गलत जानकारी दी गई। इसके बाद पुलिस ने जांच की तो सच सामने आ गया। आरोप लगाने वाला पक्ष ऐसा कुछ साबित नहीं कर पाया कि जिससे साबित हो सके कि उसके साथ लूट हुई है।

फिर अंकित को दिन भर चौकी में बिठाया क्यों गया

अब यदि मामला लूट का नहीं था, गलत जानकारी दी गई तो बड़ा सवाल यह है कि अंकित को चौकी में क्यों बुलाया गया। उससे क्यों पूछताछ की गई। घबराए अंकित ने इतना ही बताया कि उनका मामला निपट गया है। उसने यह भी बताया कि पुलिस चौकी में पंचायत हुई थी।

लूट की जानकारी यदि गलत थी तो संसार के खिलाफ केस क्यों नहीं

अब बड़ा सवाल यह है कि यदि संसार ने पुलिस को गलत जानकारी दी है तो उसके खिलाफ पुलिस को गलत जानकारी देने का मामला क्यों नहीं दर्ज किया गया। क्यों चौकी में पुलिस ने पंचायत बुला कर मामला निपटाया? ऐसे कुछ सवाल है जो पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े कर रहे हैं। चौकी इंचार्ज अनिल मलिक ने बताया कि पूरा मामला उच्चाधिकारियों के नॉलेज में लाया गया है। वहां से जो भी आदेश होंगे इसके बाद आगे की कार्यवाही की जाएगी।

मेरे बेटे के साथ लूट तो हुई थी

इधर पीड़ित के पिता ईश्वर ने बताया कि उसके बेटे का तीन-चार लोगों ने पीछा किया। उसे रोक कर मोबाइल व नकदी छीनकर मौके से फरार हो गए। यहीं वजह थी कि उसके बेटे ने पुलिस को लूट की शिकायत दी थी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस