पानीपत, जागरण संवाददाता। पानीपत के इसराना गांव के द्रोण जागलान ने 24वीं आल इंडिया कुमार सुरेंद्रा सिंह इंटर स्कूल शूटिंग चैंपियनशिप में सब यूथ में 10 मीटर एयर पिस्टल में कांस्य पदक जीता। यह प्रतियोगिता पश्चिम बंगाल में आसनसोल में 18 से 24 अक्टूबर तक हुई। इससे पहले भी द्रोण राज्य शूटिंग प्रतियोगिता में स्वर्ण और रजत पदक जीत चुका है।

डीपीएस पानीपत के नौवीं कक्षा के छात्र 14 वर्षीय द्रोण जागलान ने दैनिक जागरण को बताया कि उनके पिता सुक्रमपाल जागलान कुश्ती और दादा राज सिंह आर्य कबड्डी चैंपियन रहे हैं। पिता की इच्छा थी कि बेटा भी पहलवान बने। उसे शूटिंग खेल पसंद था। पिता ने पूरा सहयोग किया और उसने पदक जीते। वह सप्ताह में दो दिन फरीदाबाद में शूटिंग का अभ्यास करने जाता है।

इसके अलावा हर रोज चार घंटे घर पर बनाई गई शूटिंग रेंज में अभ्यास करता है। वह प्रतिदिन 200 फायर करता है। बड़ी बहन श्रुति भी शूटिंग की स्टेट चैंपियन है। बहन भी उसे ट्रेनिंग देती हैं। अब वह फरीदाबाद में होने वाली राज्य स्तरीय स्कूली शूटिंग चैंपियनशिप की तैयारी कर रहा है। वह अपनी तकनीक में भी सुधार पर जोर दे रहा है।

उसका लक्ष्य एशियन गेम्स, विश्व चैंपियनशिप और ओलिंपिक में पदक जीतना है। द्रोण ने अपनी सफलता का श्रेय पिता सुक्रम पाल और कोच याशिका गोयल को दिया है। पोते की सफलता पर राज सिंह आर्य का कहना है कि द्रोण ने पदक जीत कर परिवार व गांव का नाम रोशन किया है। उनका कहना है कि ग्रामीण क्षेत्र में खेल प्रतिभा की कमी नहीं है। अगर ग्रामीण खिलाड़ियों को खेल उपकरण व अच्छे ग्राउंड मिले तो वे राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में पदक जीत सकते हैं।

Edited By: Anurag Shukla

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट