कुरुक्षेत्र, जागरण संवाददाता। सीआइए-टू ने शहर ठेके पर लूट के मामले में एक हजार रुपये के इनामी अपराधी को गिरफ्तार किया है। आरोपित पंजाब के पटियाला के राधे श्याम मंदिर निवासी साहिल उर्फ नवदीप को अदालत में पेश किया। अदालत ने उसे दो दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया है।

डीएसपी मुख्यालय सुभाष चंद्र ने बताया कि पिहोवा के गांव दिवाना निवासी जसबीर सिंह ने छह अगस्त 2020 को पिहोवा सदर थाना में शिकायत दर्ज कराई थी कि वह शराब का ठेकेदार है। उसके पास एक सब ठेका चक्की प्लाट अधोया में है। इस ठेके पर उसने और उसके साथी ठेकेदारों ने कैथल के गांव जाखोली निवासी विक्की को सेल्समैन लगाया हुआ है। रात्रि के समय उसके पास विक्की का फोन आया कि ठेके पर छह लड़के आये और उसके साथ मारपीट करके एक गाड़ी में 25 पेटी शराब व गल्ले से पैसे निकलकर ले गए। सूचना पर वह और अरुनैचा निवासी रामलाल ठेके पर पहुंचे।

विक्की ने उनको बताया कि रात के समय उसके पास संगरूर निवासी दिलप्रीत खान वा पटियाला निवासी नवदीप कार में सवार होकर ठेके पर आए थे। वह पहले भी यहां से शराब लेकर जाते रहे हैं। नवनीत ने उसको कहा कि उन्हें 25 पेटी शराब चाहिए। उसने नवनीत से 42 हजार 350 रुपये लेकर 25 पेटी शराब उनकी गाड़ी में लोड़ करवा दी थी। उसी समय एक अन्य गाड़ी आई, जिसमें से चार लड़के उतरकर आये। उन लड़कों में से एक लड़के के हाथ में पिस्टल व एक के हाथ में चाकू था। उन चारों लड़कों ने दिलप्रीत खान के साथ इशारों में कुछ बातचीत करके ठेके के अंदर जबरदस्ती घुस कर उसके साथ मारपीट की और उसको डरा धमकाकर गल्ले में रखे करीब 70 हजार रुपये व उसका मोबाइल फोन और पर्स से एक हजार रुपये व कागजात लेकर दोनों गाड़ियों में सवार होकर मौके से फरार हो गए।

शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज करके जांच कराह साहिब चौकी के एसआइ राजेंद्र कुमार को सौंपी। सात अगस्त 2020 को एसआइ राजेंद्र कुमार की टीम ने आरोपित दिलप्रीत खान को गिरफ्तार करके पूछताछ की। पूछताछ के दौरान बताया कि उसने अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर गांव अधोया में शराब के ठेके पर शराब लेने के बहाने लूटपाट की थी। आरोपित को अदालत के आदेश पर जेल भेज दिया था। बाद में मामले की जांच सीआइए-टू को सौंपी गई।

सीआइए-टू प्रभारी मनदीप सिंह के नेतृत्व में एएसआइ सुधीर कुमार, जयपाल व मुख्य सिपाही नरेश कुमार की टीम ने आरोपित साहिल उर्फ नवदीप को गिरफ्तार कर लिया। आरोपित पर एक हजार रुपये का इनाम घोषित था। आरोपित को अदालत में पेश किया। अदालत ने उसे दो दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया है।

Edited By: Anurag Shukla