करनाल, जागरण संवाददाता। रक्षाबंधन पर्व को लेकर हरियाणा रोडवेज की ओर से विशेष योजना बनाई गई है। दस अगस्त को दोपहर 12 बजे से बहनों के लिए बसों में मुफ्त सफर शुरू हो गया। रक्षा बंधन के चलते कर्मचारियों की छुट्टियां रद कर दी गई हैं और बूथ पर कर्मचारियों की तैनाती कर दी गई है। रोडवेज प्रबंधन की ओर से इस दिन बसों को यात्रियों की डिमांड के अनुसार चलाया जाएगा। इस बार विशेष है कि बहनें हरियाणा के अलावा दिल्ली और चंडीगढ़ तक का सफर तय कर सकेंगी और 15 साल का बच्चा भी साथ में सफर कर सकेगा।

हालातों को देखते हुए 40 अतिरिक्त बसें

रोडवेज प्रबंधन के अनुसार रक्षाबंधन पर्व की तैयारियों को लेकर बस स्टैंड पर 40 अतिरिक्त बसों को रूट पर दौड़ाने की योजना है। अगर किसी सूरत में किसी रूट पर भीड़ अधिक होती है तो अतिरिक्त बस को उस रूट पर दौड़ाया जाएगा। इसके अलावा, अधिक सवारियों वाले रूट पर अधिक बसों की तैनाती की गई है। जिला के सभी बस स्टैंड पर फ्लाइंग टीम के कर्मचारियों को अलग से तैनाती के निर्देश दिए गए हैं ताकि चालक बस को स्टैंड पर बिना रोक न निकल सके। मुख्य बस स्टैंड के अंदर और बाहर व्यवस्था बनाए रखने के लिए कर्मचारियों की विशेष तैनाती रहेगी और सहायता के लिए कर्मचारी भी यात्रियों की मदद करेंगे। बता दें कि रोडवेज के पास लगभग 148 बसें हैं और पांच पिंक व सिटी बसों को भी शामिल किया गया है। अधिक सवारियों वाले रूट पर प्रत्येक दस मिनट में बस को दौड़ाया जाएगा।

11 अगस्त मध्य रात्रि तक जारी मुफ्त सफर

रोडवेज प्रबंधक कुलदीप सिंह ने बताया कि हरियाणा सरकार की ओर से रक्षाबंधन पर रोडवेज की बसों में मुफ्त यात्रा सुविधा प्रदान की गई है। बहनें अपने भाइयों के घर जाकर राखी बांध सकें। महिलाओं को फ्री यात्रा की सुविधा 10 अगस्त दोपहर 12 बजे से शुरू हो गई और 11 अगस्त मध्य रात्रि 12 बजे तक जारी रहेगी। महिलाओं को यह सुविधा साधारण व स्टैंडर्ड बसों में दी जाएगी। महिलाओं को किसी तरह की बसों में परेशानी न हो इसके लिए सभी कर्मचारियों को निर्देश दिए गए हैं। अधिक भीड़ वाले रूट पर अतिरिक्त बसें दौड़ाई जाएंगी।

Edited By: Anurag Shukla