समालखा (पानीपत), जागरण संवाददाता। समालखा अनाज मंडी स्थित किसान विश्राम गृह का मामला तूल पकड़ रहा है। जहां मंगलवार देर शाम भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत भी पहुंचे। भारतीय किसान यूनियन के जिला प्रधान सोनू शहरमालपुर ने उनका स्वागत किया। साथ ही मामले से अवगत भी कराया।

किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि मंडियों में किसान विश्राम गृह अधिकारियों नहीं, बल्कि किसानों के लिए बनाए गए हैं। इनका संचालन भी किसान ही करेंगे। प्रशासन जबरदस्ती करना तो दूर, इस बारे में सोचे भी नहीं। उन्होंने कहा कि मंडियों में कमेटी अधिकारियों के लिए कार्यालय बने हैं। किसान फसल लेकर आता है तो वो किसान विश्राम गृह में नहीं तो कहा आराम करेगा। अगर ये किसान विश्राम गृह के नाम पर गेस्ट हाउस है तो अधिकारी किसान के लिए विश्राम गृह कहां है ये बता दे।

टिकैत ने कहा कि अब किसान जागरूक हो चुका है। वो सारा हिसाब किताब लेगा। आठ साल से अधिकारी इसे चलाते आ रहे हैं। पहले उन आठ सालों का हिसाब किताब दें, यहां कितने लोग रूके और कितने की पर्ची काटी गई। उन्होंने भाकियू प्रधान के फैसले को सही ठहराते हुए उत्तर प्रदेश में भी इसका पता करा किसानों के लिए खुलवाने का कार्यक्रम चलाने की बात कहीं। उन्होंने कहा कि हरियाणा सरकार फसल पर चार प्रतिशत टैक्स की वसूली करती है। वो चार प्रतिशत टैक्स कहां लग रहा है। इसका भी हिसाब किसान को दे। इस मौके पर भाकियू प्रधान सोनू शहरमालपुर, ब्लाक प्रधान वीरेंद्र उर्फ सूंडा, पारस, रोहित, सुनील मौजूद रहे।

आढ़तियों के चक्कर में मत पड़ियों

किसान नेता राकेश टिकैत ने आढ़तियों की हड़ताल को लेकर कहा कि जब किसान की फसल का सीजन आता है। तभी आढ़ती हड़ताल करते हैं। अब किसान का माल बिक रहा है तो बिकने दो। इन आढ़तियों के चक्कर में भी नहीं पड़ियों, सस्ते में लूटेंगे। इनका भी मकड़ जाल है। किसान इनका साथ देता रहे हैं। ये भी किसान को दे लो। ये अपने चक्कर में ही न रहे।

दिन में अधिकारियों ने पहुंच की बातचीत

मार्केट कमेटी सचिव कृष्ण कुंडू व जेई राजेंद्र ने चौकी इंचार्ज महावीर सिंह के साथ किसान विश्राम गृह पहुंच उनसे बातचीत की। भाकियू के ब्लाक प्रधान वीरेंद्र ने कहा कि यहां भवन में किसान ठहरेंगे। अगर प्रशासन जबरदस्ती की कोशिश करेगा तो आंदोलन करेंगे। उन्होंने बताया कि एक अक्टूबर को जिले में होने वाली किसानों की बैठक भी समालखा अनाज मंडी स्थित किसान विश्राम गृह में की जाएगी।

Edited By: Anurag Shukla

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट