पानीपत [विजय गाहल्याण]। अखिल भारतीय फ्री स्टाइल एक करोड़ी इनामी कुश्ती प्रतियोगिता में हरियाणा के पहलवानों का दबदबा रहा। इन्हीं के बूते 220 अंक लेकर रेलवे की टीम ओवरऑल चैंपियन रही। रेलवे की टीम में हरियाणवी पहलवान बजरंग पूनिया, साक्षी मलिक, जितेंद्र कुमार और सुमित कुमार ने स्वर्ण पदक जीते। 210 अंक के साध हरियाणा की टीम दूसरे स्थान पर रही। भिवानी में हुए दंगल में भी ये दोनों टीमें इन्हीं स्थानों पर रही थी। इस तीन दिवसीय प्रतियोगिता के रविवार को फाइनल मुकाबले सेक्टर 13-17 में खेले गए। स्वर्ण पदक विजेता को दस लाख, सिल्वर विजेता को पांच लाख, ब्रॉन्ज विजेता को ढाई लाख और चौथे स्थान पर रहे पहलवान को एक लाख का इनाम दिया गया।

सोनीपत के रवि कुमार ने ओलंपियन उप्र के संदीप तोमर को हराकर प्रतियोगिता का सबसे बड़ा उलटफेर किया। इससे पहले लीग मैच में भी संदीप तोमर हार गए थे। 128 अंक के साथ उत्तर प्रदेश तीसरे और 116 अंक लेकर दिल्ली की टीम चौथे स्थान पर रही। 115 अंक के साथ रेलवे पांचवे, 81 अंक के साथ राजस्थान छठे, 76 अंक के साथ महाराष्ट्र और 61 अंक के साथ मध्यप्रदेश की टीम प्रदेश अंतिम आठवें स्थान पर रही। 

पुरुषों में ये चैंपियन

  • 57 किलोग्राम में हरियाणा के रवि कुमार ने 5.18 मिनट में उप्र के संदीप तोमर को 10-2 से हराया।
    जीत का दांव :
    लेग अटैक।
  • 65 किलोग्राम में रेलवे के बजरंग पूनिया ने 6 मिनट में हरियाणा के रजनीश को 9-0 से हराया।
    जीत का दांव :
    सिंगल लेग अटैक।
  • 74 किलोग्राम में रेलवे के जितेंद्र ने 6 मिनट में हरियाणा के अमित धनखड़ को 3-1 से हराया।
    जीत का दांव :
    डबल लेग अटैक।
  • 86 किलोग्राम में हरियाणा के दीपक पूनिया ने 6 मिनट में रेलवे के गोपाल यादव को 3-1 से हराया।
    जीत का दांव :
    सिंगल लेग अटैक।
  • 97 प्लस किलोग्राम में रेलवे के सुमित कुमार ने 6 मिनट में हरियाणा के मौसम खत्री को 6-0 से हराया। जीत का दांव : डबल लैग अटैक।

महिलाओं में ये चैंपियन

  • 50 किलोग्राम में रेलवे की सीमा ने 6 मिनट में हरियाणा की निर्मला देवी को 5-4 से हराया।
    जीत का दांव :
    सिंगल लेग अटैक।
  • 53 किलोग्राम में रेलवे की ललिता ने 6 मिनट में हरियाणा की ङ्क्षपकी को 3-1 से हराया।
    जीत का दांव :
    ढाक।
  • 57 किलोग्राम में हरियाणा की पूजा ढांडा ने 2.44 मिनट में पंजाब की राज को 12-2 से मात दी।
    जीत का दांव :
    फितले।
  • 62 किलोग्राम में रेलवे की साक्षी मलिक ने 3.40 मिनट में हरियाणा की मानषी को 10-0 से हराया।
    जीत का दांव :
    सिंगल लेग अटैक।
  • 72 किलोग्राम में पंजाब की गुरशरण कौर ने 6 मिनट में रेलवे की किरण को 5-1 से हराया।
    जीत का दांव :
    डबल लेग अटैक। 

दूसरी बार ये बने विजेता
गत वर्ष के दंगल विजेता बजरंग पूनिया,  दीपक पूनिया, पूजा ढांडा, सीमा इस बार भी विजेता बने। अमित धनखड़, संदीप तोमर और किरण को हार का सामना करना पड़ा।

sakshi malik in panipat

साक्षी सबसे तेज-तर्रार पहलवान
रेलवे की ओर से खेल रही रोहतक की साक्षी मलिक प्रतियोगिता की सबसे तेज-तर्रार पहलवान रही। उन्होंने 39 व 45 सेकंड और 3.40 मिनट में जीत हासिल की। वहीं पंजाब पुलिस की इंस्पेक्टर 39 वर्षीय गुरशरण कौर  सबसे उम्रदराज पहलवान रहीं। सीमा कम उम्र की विजेता पहलवान रहीं।

यह भी पढ़ें - जानिये, टोक्‍यो ओलंपिक 2020 के लिए क्‍या कर रहे हैं पहलवान

Posted By: Ravi Dhawan

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस