कैथल, जागरण संवाददाता। कैथल में शुक्रवार दोपहर करीब एक बजे निजी बस और कार की आमने-सामने की टक्कर हो गई। इस हादसे में एक 27 वर्षीय फौजी की मौत हो गई। हादसा इतना भयानक था कि कार के परखच्चे उड़ गए। घटना सड़क के पास दुकान में लगे एक सीसीटीवी कैमरे में भी कैद हो गई है।

मृतक की पहचान जींद के गांव मखंड निवासी गुरमीत सिंह के रूप में हुई है। कार में सवार एक महिला भी घायल हो गई है, जिसका निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है। हादसे की सूचना मिलने के बाद सिविल लाइन थाना पुलिस और स्वजन नागरिक अस्पताल में पहुंच गए थे।

गुरमीत स्वयं गाड़ी चलाकर अपने किसी परिचित से मिलने गांव से कैथल के लिए आ रहा था। रास्ते में उसके गांव की महिला ने उससे कैथल आने के लिए लिफ्ट मांगी थी। जब वे कैथल में जींद रोड बाईपास से प्यौदा रोड बाईपास के बीच पहुंचे तो उनकी कार सामने से आ रही प्राइवेट बस से टकरा गई। टक्कर इतनी जोरदार थी कि किसी को भी संभलने का मौका नहीं मिला।

हादसे का धमाका सुनकर आसपास के दुकानदार मौके पर पहुंचे। दुकानदारों ने ही कार में फंसे फौजी गुरमीत को बड़ी मुश्किल से बाहर निकाला और अस्पताल पहुंचाया। वहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। बता दें कि प्राइवेट बस के ठीक पीछे एक रोडवेज बस थी, जिसमें बैठी सवारी भी बाल-बाल बच गई।

दो दिन बाद जाना था वापस ड्यटी

मृतक के बुआ के लड़के प्रेम ने बताया कि गुरमीत की ड्यूटी असम में थी। 21 अगस्त को ही उसे वापस ड्यूटी पर जाना था, लेकिन उससे पहले ही हादसे में उसकी मौत हो गई। गुरमीत शादीशुदा था और उसके पास एक वर्ष की लड़की है। पत्नी गर्भवती थी। हादसे के बाद परिवार गहरे सदमे में है।

"सिविल लाइन थाना प्रभारी इंस्पेक्टर हितेंद्र सिंह ने बताया कि पुलिस को हादसे की सूचना मिली थी। मौके पर कर्मचारियों को भेज दिया गया था और आगामी कार्रवाई शुरू कर दी गई है।"

Edited By: Anurag Shukla