पानीपत, जेएनएन। कोरोना वायरस के कारण सरकार की ओर से पूरे भारत को लॉकडाउन किया हुआ है। लॉकडाउन का सरकार और आम जनता को भारी नुकसान हो रहा है। इस बीच एक अच्छी खबर यह है कि वायु में प्रदूषण का स्तर पूरी तरह से खत्म हो गया है। 

प्रदूषण स्तर का 40 साल का रिकार्ड टूट गया है। 1980 के दौर में पानीपत में प्रदूषण स्तर 50 के आसपास होता था। शनिवार को एयर क्वालिटी इंडेक्स 56 रहा। 40 वर्षों में अब तक सबसे कम है। वाहनों और उद्योगों के न चलने के कारण ऐसा हो रहा है। लॉकडाउन के चलते उद्योगों की चिमनियां धुंआ नहीं उगल रही। वाहन चल नहीं पा रहे हैं। प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के साइंटिस्ट राजेश गढिय़ा का कहना है कि 1980 का दौर शुरू हो गया है। किसानों को तो वैसे ही दोष दिया जा रहा था। एक दिन पहले नारनौल का एयर क्वालिटी इंडेक्स 19 व गुरुग्राम का 43 पर आ गया था। 

मॉडल टाउन वासी दंत विशेषज्ञ डॉ. वरुण गोयल ने बताया कि पहली बार इतनी नीला आसमान देखने को पानीपत में मिला है। अब आसमान को निहारने का मन होता है। अब यह भी स्पष्ट हो गया है। उद्योगों व वाहनों के कारण हम अपने स्वास्थ्य को कितना नुकसान पहुंचा रहे हैं। 

पिछले पांच दिनों का एयर क्वालिटी इंडेक्स 

28 मार्च  : 56

27 मार्च  : 80

26 मार्च  : 90

25 मार्च  : 126

24 मार्च  : 144

कैथल में 31 अक्टूबर को 477 था, अब 32 है AQI

31 अक्टूबर 2019 को वायु में प्रदूषण का स्तर 477 तक पहुंच गया था, जो वातावरण के लिए बहुत ही खतरनाक था। वहीं अब पांच दिनों से वाहन नहीं चल रहे हैं तो एयर क्वालिटी इंडेक्स मात्र ३२ तक ही रह गया है। 32 तक रहने का मतलब है कि इस समय वायु सांस लेने के लिए बहुत लाभदायक है। पिछले एक सप्ताह से लगातार एयर क्वालिटी इंडेक्स कम हो रहा है। 

यह रहा पिछले सात दिनों का एयर क्वालिटी इंडेक्स 

- 22 मार्च को 84

- 23 मार्च को 68

- 24 मार्च को 83

- 25 मार्च को 59

- 26 मार्च को 49

- 27 मार्च को 47

- 28 मार्च को 32

यह रहा 28 मार्च को दोपहर दो बजे तक प्रदूषण का स्तर 

28 मार्च को वायु में प्रदूषण का स्तर कम पाया गया। पीएम 2.5 न्यूनतम 10, एवरेज 26 व अधिकतम 50 तक रहा। पीएम 10 न्यूनतम 26, एवरेज 32 व अधिकतम 52 तक रहा। इसके अलावा कार्बन मोनोऑक्साइड, ओजोन, सल्फर डाईऑक्साइड, एल्यूमीनियम का स्तर भी जांचा जाता है। इन सभी को मिलाकर वायु में प्रदूषण के स्तर की एवरेज निकाली जाती है जो शनिवार को दोपहर दो बजे तक 32 मापा गया। 

Posted By: Anurag Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस