पानीपत/कैथल, जेएनएन। कैथल के पूंडरी पुलिस थाना में कार्यरत एक पुलिसकर्मी से बाइक पर सवार तीन युवकों ने मारपीट की और वर्दी भी फाड़ दी। इसके बाद आरोपित जान से मारने की धमकी देते हुए फरार हो गए। मामले की शिकायत पुलिस को को दी गई। पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

पुलिस को दी शिकायत में कुरुक्षेत्र के गांव चनारहेड़ी निवासी जयकिशन ने बताया कि वह पूंडरी पुलिस थाना में कार्यरत है। 16 सितंबर की रात को गांव रसीना के नजदीक वाहनों की जांच कर रहा था। इस दौरान बाइक पर सवार होकर तीन लड़के आए।

जान से मारने की धमकी दी

बाइक को रुकवाते हुए जब कागजात दिखाने को कहा तो तीनों गालियां देने लगे। दो लड़कों ने उसे पकड़ लिया और मुंह पर थप्पड़ व मुक्के मारे। जब आरोपितों से छुड़ाने की कोशिश की तो उसकी वर्दी फाड़ दी। इसके बाद उसने शोर मचाया तो साथी कर्मी सुनील और सुरेंद्र ने उसे छुड़वाया। इसके बाद मौका लगते ही तीनों लड़के मौके से फरार हो गए। जाते-जाते आरोपितों ने धमकी दी कि आज तो बच गया, आगे से सड़क पर दिखाई दिया तो जान से मार देंगे। साथी पुलिस कर्मचारियों ने उसे कैथल के सिविल अस्पताल दाखिल करवाया। मामले की शिकायत पुलिस को दी गई। पुलिस ने तीनों आरोपितों के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

एक दिन पहले भी घायल हुआ पुलिस कर्मी

महमूदपुर चौकी पुलिस ने गांव शादीपुर-मलिकपुर के बीच श्मशान घाट के पास एक नशा तस्कर को पकड़ने में एक पुलिस कर्मी घायल हो गया था। पुलिस ने मलिकपुर की तरफ से प्लसर बाइक पर आए व्यक्ति को टार्च से रोशनी देकर रुकने का संकेत किया। जिसने अपनी बाइक से  पुलिस पर हमला करते हुए अपनी बाइक की सीधी टक्कर मारी, जिस कारण एक पुलिस कर्मचारी के हाथ की अगुंली में फ्रैक्चर आ गया था। आरोपित की पहचान मलिकपुर निवासी जोगा सिंह के रूप में हुई। उससे एक किलो 900 ग्राम डोडापोस्त बरामद हुआ।

पानीपत की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Anurag Shukla

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस