जागरण संवाददाता, करनाल : सीएम मनोहर लाल ने रविवार को प्रदेश के सबसे शिक्षित बैच के 4225 पुलिस जवानों को कर्तव्य और निष्ठा की शपथ दिलाई। मधुबन पुलिस कांप्लेक्स में आयोजित पा¨सग आउट परेड में बताया गया कि यह सबसे अधिक पढ़ा लिखा बैच है। इनमें 273 बी टेक हैं, 15 एम टेक हैं के अलावा एमफिल, एमबीए व एमसीए डिग्रीधारक भी शामिल हैं।

इससे पहले मुख्यमंत्री ने परेड का निरीक्षण किया। जवानों ने मार्च पास्ट के अलावा पीटी शो का प्रदर्शन भी किया। मुख्यमंत्री ने परेड में शामिल सभी जवानों की चार दिनों की छुट्टी की घोषणा की। सीएम ने बताया कि भर्ती के लिए जरूरी योग्यता से भी अधिक पढ़े-लिखे जवानों ने ट्रे¨नग प्राप्त की है। जवान आगे भी यदि उच्च शिक्षा प्राप्त करना चाहते हैं तो उन्हें अब विभाग से एनओसी नहीं लेनी होगी। उन्हें विभाग को केवल सूचना देनी होगी और विभाग से छुट्टी भी मिलेगी। बाक्स

राहत राशि को 10 से बढ़ाकर 30 लाख रुपये किया

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि हरियाणा पुलिस के जवानों का कार्य जोखिम भरा है। ऐसे में मृत्यु होने पर मिलने वाली राहत राशि को 10 लाख से बढ़ाकर 30 लाख रुपये करने की घोषणा की। इनमें से 5-5 लाख रुपये मृतक जवान के माता-पिता को और 20 लाख रुपये उनके आश्रितों को दिए जाएंगे। यदि उनके माता-पिता नहीं है तो यह सारी राशि जवान के आश्रितों को दी जाएगी। वहीं अति गंभीर रूप से घायल होने की स्थिति में जवान को 15 लाख रुपये, गंभीर घायल होने पर 10 लाख रुपये व मामूली घायल होने वाले जवान को 5 लाख रुपये की आर्थिक सहायता राशि देने की घोषणा की। हरियाणा के गृह सचिव एसएस प्रसाद ने कहा कि हरियाणा पुलिस के इतिहास में यह एक बड़ा मौका है। पुलिस महानिदेशक बीएस संधू ने कहा कि मधुबन में अब तक देश और विदेश के करीब 2.50 लाख जवान प्रशिक्षण ले चुके है बाक्स

समारोह में बेहोश हुए छह जवान

दीक्षांत समारोह में जवानों को शपथ दिलवाई जा रही थी तो उसी दौरान छह जवान बेहोश होकर गिर गए। यह देख सीएम ने कहा कि गर्मी ज्यादा होने के कारण वे अपना भाषण छोटा करेंगे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस