पानीपत, जेएनएन। गुजरात के कॉटन वेस्‍ट व्‍यवसायी का हत्‍यारा वेष बदलने में माहिर था। पुलिस को इनामी बदमाश की कई दिनों से तलाश थी। कभी लंबे बाल रखकर लूट की वारदात करने वाला अली सिर मुंडाकर घूम रहा था। इस वजह से पुलिस से बच जा रहा था। लेकिन सीआइए-3 ने अली मोहम्‍मद को घर से पकड़ा।  उससे देसी पिस्तौल और कारतूस बरामद किया गया है।

सीआइए-3 प्रभारी एसआइ छबील सिंह ने बताया कि अली मोहम्मद और उसका भाई फिरोज पानीपत में कॉटन वेस्ट का काम करते थे। उनकी गुजरात के सचिन धवन के साथ रुपये के लेनदेन में रंजिश हो गई थी। दोनों भाइयों ने दोस्त रिंकू के साथ मिल 1 अगस्त 2016 को गुजरात में गोदाम मे धवन की गोली मारकर हत्या कर दी। गांधीधाम व्यापारी एसोसिएशन की ओर से आरोपितों की सूचना देने पर पांच लाख रुपये की घोषणा की गई थी।

कभी दिल्‍ली तो कभी राजस्‍थान में रह रहा था

हत्या करने के बाद अली दिल्ली, उत्तर प्रदेश, राजस्थान और बिहार में रहा। हत्याकांड में अली का भाई फिरोज पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है। उसका साथी हरि सिंह कॉलोनी का रिंकू वांटेड है। अली मोहम्मद को अदालत में पेश कर सात दिन की रिमांड पर लिया है। अली पानीपत में लूट की दो, सोनीपत में लूट की दो व हत्या के प्रयास की एक और अंबाला में लूट की साजिश रचने की वारदात कर चुका है। वह 2013 में अंबाला जेल से छूटकर आया था।

ये कर रखी हैं वारदातें

वर्ष 2011 मे अपने साथियों के साथ मिलकर थाना शहर व मॉडल टाउन क्षेत्र के अंतर्गत वोडाफोन के शोरूम मे लूट की दो और सोनीपत में लूट की दो और जानलेवा हमले की एक वारदात। वर्ष 2013 में साथियों के साथ मिलकर अंबाला मे लूट की साजिश रची।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Anurag Shukla

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप