जागरण संवाददाता, पानीपत

महिला एवं बाल विकास विभाग की सेवानिवृत्त डीपीओ ऊषा अरोड़ा ने कहा कि समाज सेवा के लिए संस्थाओं को ईमानदारी से अपना कर्तव्य निभाना चाहिए।

अरोड़ा शुक्रवार को माता सीता रानी सेवा संस्था के 26 वें स्थापना दिवस पर निर्मला देशपाडे संस्थान में बोल रहीं थी। विशिष्ट अतिथि रमेश चंद पुहाल ने कहा कि स्व.माता सीता रानी ने अपने सम्पूर्ण जीवन काल में भारतीय स्वतंत्रता आदोलन में भाग लिया था। उनकी पुत्री निर्मला देशपाडे ने भी भूदान आदोलन में साथ दिया था। कार्यक्रम को हरिजन सेवक संघ के जिलाध्यक्ष डॉ. शकर लाल शर्मा मनो चिकित्सक डॉ. सुदेश खुराना, प्रिया लूथरा, डॉ. विजय अरोड़ा, दीपक कथूरिया, प्रोमिला पाठक, मधु दीक्षित, ओपी शर्मा, आरके दीक्षित, बलराज एलावाधी, संजय कुमार, इंदु बाला, रणधीर सिंह व अशोक ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम में 5 वर्षीया गुंजन को संस्था की ओर से बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान का ब्राड एंबेसडर बनाया गया।

कार्यक्रम का शुभारंभ वैदिक विद्वान बृज किशोर शास्त्री ने हवन यज्ञ से किया। इस मौके पर राम मोहन राय, सपना, शिवानी, पूजा, मोहित व अमनदीप कौर मौजूद रहीं।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस