जागरण संवाददाता, पानीपत। पानीपत जिले में बाइक चोरी की वारदात बढ़ रही हैं। अलग-अलग जगहों पर बाइक चोरी की शिकायत पर केस दर्ज किए गए हैं। पुलिस चोरों तक पहुंचने में नाकाम साबित हो रही है। शहर के सेक्‍टर जैसे पाश एरिया में भी लगातार वारदात बढ़ रही है।

इन आठ जगहों पर बाइक उठा ली गई

1- मुखीजा कालोनी के बिजेंद्र ने किशनपुरा चौकी पुलिस को बताया कि वह सब्जी खरीदने गया था। मंडी से जब लौटा तो बाइक चोरी हो चुकी थी।

2- घरौंडा के जुनेद ने बताया कि वह सेक्टर 29 स्थित लिबर्टी इंडिया कंपनी में काम करता है। उसने अपनी बाइक बीबीएमबी के सामने खड़ी की थी। बाहर आया तो बाइक चोरी हो गई।

3- सफीदों, जींद के रहने वाले मोहित ने बताया कि वह सुबह अरोड़ा अस्पताल में दादी को इलाज के लिए लाया था। बाइक को बाहर खड़ा किया था। पीछे से बाइक चोरी हो गई।

4- बराना के पवन ने बताया कि वह संजय चौक के पास उज्जीवन बैंक में आया था। बाइक को बैंक के बाहर खड़ा किया। जब बाहर आया तो बाइक नहीं मिली। पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है।

5- गढ़ी बेसक के रहने वाले खुर्शीद ने पुलिस को बताया कि वह भारत नगर गया था। सचिन पाल हैंडलूम के बाहर बाइक को खड़ा किया। गोदाम से जब बाहर आया तो बाइक चोरी हो चुकी थी।

6- वार्ड 11 के रहने वाले चिराग ने पुलिस को बताया कि वह देसराज कालोनी में अपने दोस्त दिवांशु के पास गया था। जब उसके घर से आया आया तेा बाइक चोरी हो चुकी थी।

7- कुटानी रोड पर रहने वाले चांद ने पुलिस को बताया कि वह मजदूरी करता है। उसके भाई के नाम से बजाज डिस्कवर बाइक है। बाइक घर के बाहर खड़ी थी। सुबह देखा तो चोरी हो चुकी थी।

8- बबैल के अनिल ने पुलिस को बताया कि उसकी पशु चारे की दुकान है। वह अपनी दुकान पर ग्राहक को सामान दे रहा था। इसी दौरान दुकान के साइड वाले प्लाट से स्पलेंडर बाइक चोरी हो गई।

इधर घर से फोन चोरी

सज्जन चौक निवासी मोहरपाल ने शिकायत दी कि वह अपने दोस्त भूपेंद्र, रिंकू व जितेंद्र के साथ कमरे में सो रहा था। सुबह उठकर देखा तो उसका, जितेंद्र, भूपेंद्र व लक्ष्मीनारायण का फोन चोरी हो चुका था। वहीं, अदियाना के सुक्रमपाल ने पुलिस को बताया कि गांव से कोपरवायर की उसकी डोरी चोरी कर ली गई। गांव के ही ओम सिंह, कुलदीप, विजय, रणधीर, राजेश, की डोरी हो चुका है। कोई गिरोह है जो ये चोरी कर रहा है। पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है।

माता के जागरण में गए थे, घर में हो गई चोरी

नूरवाला के रहने वाले किला थाना पुलिस को बताया कि वह परिवार सहित कच्चा कैंप में माता के जागरण में गए थे। जागरण में खाना खाने के बाद घर लौटे तो देखा कि मेन गेट की अंदर से कुंडी लगी हुई थी। पड़ोसी की सीढ़ियों से अंदर गए। मकान के अंदर वाले गेट का ताला टूटा हुआ था। अंदर सामान बिखरा हुआ था। अलमारी टूटी हुई थी। 95 हजार नकदी, सोने की एक तोले की चेन, दो अंगूठी, दो पायल, पांच जोड़ी कान की बाली, घर की एलसीडी ले गए।

Edited By: Anurag Shukla