जागरण संवाददाता, पानीपत

छह अप्रैल को संभावित चुनावों के लिए जिला बार एसोसिएशन, पानीपत ने तैयारी शुरू कर दी है। पुरानी वोटर लिस्ट चस्पा कर दी गई है। नई लिस्ट बन रही है। एसोसिएशन के सभी सदस्यों को 15 जनवरी तक शपथ पत्र देना होगा कि वह मतदान का अधिकार चाहते हैं।

एसोसिएशन के प्रधान एडवोकेट निर्मल सिंह गुर्जर ने बताया कि यूं तो कमेटी का वार्षिक कार्यकाल 16 दिसंबर 2017 को पूरा हो चुका है। गत माह बार काउंसिल ऑफ इंडिया (बीसीआइ) ने देश की सभी बार में 6 अप्रैल को चुनाव कराने के आदेश दिए हैं। स्टेट बार काउंसिल ने आदेशों का हवाला देते हुए चुनाव का शेड्यूल भी जारी किया है। काउंसिल के आदेश के मुताबिक 15 जनवरी तक प्रत्येक वकील को शपथपत्र देना होगा कि वह किस बार का सदस्य है और कहा वोट डालेगा। ऐसा इसलिए किया गया है, ताकि डबल वोटिंग न हो सके। 31 जनवरी तक योग्य मतदाताओं की सूची पंजाब एंड हरियाणा बार काउंसिल को उपलब्ध करानी होगी। यह सूची बार रूम समेत न्यायालय परिसर में उपयुक्त स्थान पर भी चस्पा की जाएगी।

28 फरवरी या उससे पहले चुनाव अधिकारी या कमेटी सदस्यों के नाम रजिस्टर्ड डाक से काउंसिल को भिजवाए जाएंगे। निर्मल सिंह की मानें तो नामाकन तारीख, छंटनी व नाम वापसी की तारीख एसोसिएशन के पदाधिकारी आम राय से तय करेंगे।

शुल्क-किताब वापस करो, वोट डालो :

एसोसिएशन के प्रधान ने बताया कि विगत वर्षो की भांति इस बार भी चुनाव लड़ने वाले वकीलों को नामांकन से पहले वार्षिक शुल्क व लाइब्रेरी की किताबें जमा करानी होंगी। वोट डालने वाले वकीलों के लिए भी यह नियम लागू रहेगा।

हर साल सवा सौ वकीलों की वृद्धि :

एसोसिएशन से मिली जानकारी के मुताबिक फिलहाल 1992 वकील सदस्य हैं। हर साल लगभग सवा सौ वकील बढ़ जाते हैं। चुनाव की तारीख आने तक वकीलों की संख्या बढ़ने की उम्मीद है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस