पानीपत/करनाल, जेएनएन। नौ साल की अनाथ बच्ची के साथ दुष्कर्म के बाद हत्या से सनसनी फैल गई। उसका शव बोरी में भरकर कूड़ेदान में फेंक दिया। वह पांच दिन से लापता था। परिजनों ने गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी, लेकिन पुलिस ने गंभीरता नहीं दिखाई। पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है।

इंद्री क्षेत्र की रहने वाली बच्ची 8 अप्रैल को मामा के साथ उनके गांव गई थी। 9 अप्रैल को वह अचानक लापता हो गई। मामा ने पुलिस में बच्ची की गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराई। शनिवार सुबह करीब 9 बजे कुछ बच्चे खेल रहे थे तो नजदीक ही कूड़ेदान से दुर्गंध आई। पास जाने में पता चला कि वह किसी का शव है। पुलिस ने शव को कल्पना चावला मेडिकल कालेज एवं अस्पताल में पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। 

मामा के दोस्त ने की वारदात
पुलिस की छानबीन में पता चला है कि बच्ची अपने मामा के साथ दुकान पर जा रही थी। सामान दिलवाने के बाद मामा वहीं रुक गया और बच्ची वापस लौटने लगी। तभी मामा के दोस्त रवि उसे लालच देकर अपने साथ घर ले जाकर दुष्कर्म किया। इसके बाद गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी और शव को बोरी में डाल गांव के कूड़ेदान में फेंक दिया। आरोपित उसके मामा के घर के सामने रहता है। काफी देर तलाशने के बाद मामा ने थाने में उसके गुम होने की शिकायत दी। 

छह माह पहले ही अनाथ आश्रम से बच्ची को लाई थी बुआ
मामा ने बताया कि दो साल पहले बच्ची के माता-पिता की बीमारी से मौत हो गई थी और वह चाचा के पास रह रही थी। वहां से उसे करनाल के अनाथ आश्रम में भेज दिया गया। छह माह पहले बुआ उसे आश्रम से वापस अपने साथ ले आई थी। इसके बाद वह फिर चाचा के पास रहने लगी थी। 8 अप्रैल को बच्ची का मामा उसे अपने साथ गांव ले गया था। जहां से अगले ही दिन बच्ची लापता हो गई।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट से होगा पर्दाफाश
बच्ची की हत्या के आरोपित को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। रविवार को आरोपित को न्यायाधीश के सामने पेश किया जाएगा। पोस्टमार्टम की रिपोर्ट के बाद ही मौत के कारणों का खुलासा होगा।
सुरेंद्र सिंह, एसएचओ, कुंजपुरा थाना

Posted By: Anurag Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस