अंबाला, जेएनएन। नासिक में लाॅकडाउन के कारण प्याज के दामों में अचानक उछाल आ गया है। जो दस दिन पहले प्रति किलो 7 रुपये तक था और अब 20 रुपये प्रति किलो तक बिक रहा है। क्याेंकि नासिक से प्याज की आवक रूक गई है। इस समय राजस्थान के सिकर और लोकल स्तर से ही प्याज की आवक हो रही है। लेकिन मार्केट में डिमांड के मुताबिक आपूर्ति नहीं हो रही।

अंबाला शहर के कालका चौक पर ट्रॉली में प्याज बेचने के लिए पहुंचे रिंकू प्रजापत ने बताया कि अभी प्याज के दामों में ओर बढ़ोतरी होने की उम्मीद है। क्योंकि नासिक का प्याज बंद हो चुका है। अब राजस्थान के सिकर से प्याज आ रहा है, लेकिन उसमें ज्यादा अच्छी क्वालिटी नहीं है। इससे अच्छा लोकल का प्याज है। थोक में 14 से 15 रुपये प्याज की खरीद होती है।

और दाम बढ़ने की आशंका

अगर कोरोना बढ़ने के मामलों के चलते लॉकडाउन और अधिक लंबा खिंच गया तो प्याज के दाम और बढ़ने की संभावना से इन्कार नहीं किया जा सकता। शुरुआती दौर में प्याज की कीमतों में कमी से प्याज उत्पादक किसानों में निराशा थी। लेकिन जैसे जैसे समय बीतता गया, प्याज की कीमतें भी बढ़ती जा रही हैं। लेकिन सबसे ज्यादा प्याज की कीमतों में उछाल महाराष्ट्र में लाॅकडाउन लगने के बाद आया है। महाराष्ट्र का नासिक प्याज उत्पादन में पूरे देश में अधिक है। वहां पर कई महीने पहले ही प्याज की खेप पहुंचनी शुरू हो गई थी, लेकिन कोरोना के प्रभाव के चलते नासिक का प्याज अन्य प्रदेशों में नहीं पहुंच रहा है, जिसका असर अब यहां भी देखने को मिल रहा है। अंबाला शहर सब्जी मंडी में अब प्याज के दाम रोजाना बढ़ रहे हैं। अगर कोरोना महामारी का प्रकोप ऐसे ही चलता रहा तो स्वाभाविक है प्याज के दामों में और उछाल आएगा।

नासिक में प्याज का सीजन खत्म : तुली

अंबाला शहर सब्जी मंडी एसोसिएशन के प्रधान शिव तुली ने बताया कि अंबाला शहर में प्याज की आवक पिछले दिनों से बेहद कम हो गई थी। क्योंकि महाराष्ट्र के नासिक में प्याज की फसल का सीजन खत्म हो चुका है। इस कारण की सप्लाई नहीं हाे रही है। इस समय सब्जी मंडी मेें थोक के तौर पर प्याज 16 से 20 रुपये प्रति किलो बिक रहा है और रिटेल में 25 रुपये तक पहुंच रहा है।

पानीपत की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Edited By: Umesh Kdhyani