पानीपत, जेएनएन। प्रशासन की लापरवाही ने एक पत्नी का सिंदूर और मासूम बच्चों के पिता का साया छीन लिया। पत्नी चार महीने की बेटी और सात साल के बेटे के साथ स्टेशन पर रात भर पति के आने का इंतजार करती रही। जब घर पहुंची तो उसके पति की मौत की खबर मिली। 

पत्नी व बच्चों को लेने रेलवे स्टेशन जा रहे अनाज मंडी के पल्लेदार की बाइक मंगलवार देर रात करीब 12:30 बजे सीवर के टूटे ढक्कन से टकराकर फिसल गई। 10 फीट दूर तक घसीटने के कारण पल्लेदार की मौत हो गई। 

शादी में गई थी पत्नी

विकास नगर में किराये पर रहने वाले प्रदीप ने बताया कि पड़ोस में पांच वर्ष से उप्र बदायूं के अलाहपुर गांव का 25 वर्षीय इब्राहिम रहता था। इब्राहिम की पत्नी भूरी दिवाली पर सात वर्ष के बेटे दानिश और चार महीने की बेटी परी को साथ लेकर चचेरी ननद की शादी में अलाहपुर गांव गई थी। 

सीवर के ढक्कन से टकराई बाइक

रात को उसे ट्रेन से पानीपत रेलवे स्टेशन पहुंचना था। पत्नी और बच्चों को लेने के लिए इब्राहिम ने उसकी बाइक मांगी। रेलवे स्टेशन जाते समय अनाज मंडी के धर्मकांटा के पास सीवर के टूटे ढक्कन से बाइक टकरा गई। सूचना के बाद पहुंची सेक्टर-29 थाना पुलिस घायल इब्राहिम को सामान्य अस्पताल ले गई, जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। 

सारी रात करती रही स्टेशन पर इंतजार

सामान्य अस्पताल में भूरी ने बताया कि वह सारी रात रेलवे स्टेशन पर पति का इंतजार करती। पति से मोबाइल पर भी बात नहीं हो रही थी। वह सुबह घर लौटी तो पति नहीं मिला। इसके बाद वह अनाज मंडी पहुंची तो पता चला कि पति की हादसे में मौत हो गई है।

धर्मकांटा के पास सीवर ढक्कन भारी वाहनों के गुजरने से बार-बार टूट रहा है। बृहस्पतिवार को सीवर पर लेंटर डाला जाएगा, जिससे कि टूटे ना।

वीरेंद्र चहल, एसडीओ, मार्केट कमेटी

Posted By: Anurag Shukla

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप