जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र। अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव में शिल्पकारों का हुनर व शिल्पकला के साथ हरियाणा पैवेलियन के लजीज व्यंजन पर्यटकों को रिझाएंगे। तीन बड़े परांठे खाने वाला मालामाल होगा। दावा है कि यह देश का सबसे बड़ा परांठा होगा। हरियाणा कला एवं सांस्कृतिक विभाग के हाथों में पहली बार हरियाणा पैवेलियन की कमान होगी। पैवेलियन में भीम रसोई में लजीज व्यंजनों के साथ हरियाणवी पकवानों का भी पर्यटक स्वाद चखेंगे।

पुरुषोत्तमपुरा बाग में बनाए जाने वाले हरियाणा पैवेलियन में हरियाणवी संस्कृति की झलक दिखाई देगी। भीम रसोई आकर्षण का केंद्र होगी तो भीम की खुराक खाने वाला पर्यटक हरियाणा पैवेलियन से मालामाल होकर लौटेगा। हिंदुस्तान का सबसे बड़ा परांठा के तीन परांठे खाने पर एक लाख का नकद इनाम व बुलेट मोटरसाइकिल उपहार में मिलेगी। हरियाणा पैवेलियन में हिंदुस्तान का सबसे बड़ा परांठा के साथ भीम रसोई भी आकर्षण का केंद्र होगी। गुलाबी ठंड में पर्यटक कुल्हड़ की चाय की चुस्की का आनंद लेंगे तो तीज त्योहारों पर बनने वाले पकवान माल-पुहड़े भी स्वाद चखेंगे।

हरियाणा सरकार के विशेष प्रचार प्रकोष्ठ के ओएसडी गजेंद्र फौगाट बताते हैं कि हरियाणा पैवेलियन हरियाणवी संस्कृति, खानपान, पहरावे के साथ मिट्टी के दंगल में पहलवानों जोरअजमाईश दिखाई देगी। इसके साथ ही भीम रसोई में हाथ से निकाले हुए खोये की बर्फी, गोहाना की जलेबी, सुहाली, गुलगले व पुड़े सहित अन्य पकवानों का पर्यटक स्वाद चख सकेंगे। गजेंद्र का कहना है कि हरियाणा पैवेलियन का मुख्य उद्देश्य युवा पीढ़ी को हरियाणवी संस्कृति के साथ जोड़ना है, ताकि उन्हें हरियाणवी पहरावे के साथ पकवानों के बारे में सहजता के साथ जानकारी मिल सके। हरियाणा कला एंव सांस्कृतिक कार्य विभाग के प्रधान सचिव डी सुरेश ने अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव में हरियाणा पैवेलियन की तैयारियों का जायजा लिया।

परांठे की हैं आठ वैरायटी

ओएसडी गजेंद्र फौगाट का कहना है कि रोहतक वालों का हिंदुस्तान का सबसे बड़ा परांठा है, इसकी लंबाई तकरीबन दो फीट है। परांठे के साथ दही, चटनी, आचार व मक्खन दिया जाएगा। परांठे खाने की शर्त निर्धारित की गई है कि एक साथ बैठकर तीन परांठे खाने वाला ही इनाम का हकदार होगा। परांठे की आठ वैरायटी हैं, इसमें पनीर, आलू, गोभी, आलू-प्याज मिक्स व सिंपल परांठा शामिल है। पिछले आठ सालों से चार दोस्तों द्वारा परांठे बनाने का काम शुरू किया गया था। उनके द्वारा तीन परांठे खाने का खुला चैलेंज दिया गया है। हरियाणा सरकार की ओर से पहली बार अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव में इस चैलेंज को पर्यटकों के लिए रखा है। यदि पर्यटक एक साथ तीन परांठे खाता है तो उसे एक लाख का नकद इनाम व बुलेट मोटरसाइकिल मिलेगा।

हरियाणवी संस्कृति की झलक दिखेगी

हरियाणा कला एवं संस्कृति विभाग की निदेशक प्रतिमा चौधरी का कहना है कि हरियाणा कला एवं सांस्कृतिक विभाग की ओर से अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव में हरियाणा पैवेलियन बनाया जा रहा है। हरियाणा पैवेलियन में हरियाणवी संस्कृति की झलक दिखाई देगी। इसके साथ ही सभी घाटों पर चित्रकारी करवाई जाएगी। वहीं पैवेलियन में महाभारत से जुड़ी 21 मूर्तियां बनाई जाएंगी, जिन्हें बाद में वहीं स्थापित किया जाएगा। पैवेलियन में भीम रसोई सहित हरियाणवीं व्यंजन भी पर्यटकों को लुभाएंगे।

Edited By: Kamlesh Bhatt