जुलाना (जींद), संवाद सूत्र। गुजरात में चल रहे नेशनल गेम्‍स में हरियाणा के खिलाडि़यों का दबदबा है। एक के बाद गोल्‍ड मेडल हरियाणा के खाते में आ रहे हैं। अब वेटलिफ्टिंग में भी गोल्‍ड मेडल जीता। वहीं, कुश्ती के मुकाबलों में कुल नौ मेडल में से हरियाणा के खिलाड़ियों ने छह मेडल जीत लिए। बेटों और बेटियों ने तीन स्वर्ण, दो रजत और एक कांस्य पदक हासिल किए। 18 स्वर्ण पदकों के साथ प्रदेश के खिलाड़ी पदक तालिका में लगातार शीर्ष पर बने हुए हैं। 

जींद के गांव शादीपुर के वेटलिफ्टर दीपक लाठर ने नेशनल गेम्स में गोल्ड मेडल जीता है। गुजरात के गांधीनगर में आयोजित 36वीं नेशनल गेम्स में दीपक लाठर ने स्नैच में 145 किलोग्राम, क्लीन एंड जर्क में 170 किलोग्राम भार उठाकर गोल्ड मेडल पर कब्जा जमाया। दीपक के गोल्ड मेडल जीतने से शादीपुर और जुलाना में खुशी का माहौल बना हुआ है।

कामनवेल्‍थ में कांस्‍य जीता था

दीपक लाठर के पिता बिजेंद्र लाठर ने बताया कि दीपक ने 2018 में कामनवेल्थ गेम्स में कांस्य पदक जीता था। दीपक लाठर ने अब तक 12 अंतरराष्ट्रीय मेडल जीते हैं। 2016 में पंजाब में आयोजित सीनियर नेशनल चैंपियनशिप में गोल्ड जीता था जो कि रिकार्ड के साथ मुकाम पाया था। 2017 में तमिलनाडू में आयोजित सीनियर नेशनल चैंपियनशिप में सिल्वर जीता और 2018 में कर्नाटक में आयोजित सीनियर नेशनल प्रतियोगिता में गोल्ड मेडल जीता था।

ये भी जीते

दीपक ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पुणे में 2016 में आयोजित कामनवेल्थ चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल रिकार्ड के साथ, 2016 में सीनियर वल्र्ड चैंपियनशिप ओलंपिक क्वालीफाई में हिस्सा लिया। 2017 में सीनियर कामनवेल्थ चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीता था, 2017 में कोरिया में आयोजित एशिया कप चैंपियनशिप में कांस्य पदक और 2018 में आस्ट्रेलिया में आयोजित कामनवेल्थ गेम्स में कांस्य पदक जीता था। दीपक सेना में जेसीओ के पद पर कार्यरत हैं।

बेस्‍ट युवा नेशनल अवार्ड से सम्‍मानित

दीपक लाठर को राष्ट्रपति द्वारा 2015 में बेस्ट युवा नेशनल अवार्ड भी मिल चुका है। दीपक लाठर प्रदेश के पहले वेटलिफ्टर हैं। जिन्होंने कामनवेल्थ गेम्स में हरियाणा से हिस्सा लिया और मेडल जीता है।

Edited By: Anurag Shukla

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट