करनाल, जागरण संवाददाता। कैथल जिले के पूंडरी क्षेत्र के एक गांव स्थित आश्रम के दुष्कर्म के आरोपित महंत की गिरफ्तारी व मामले की गहनता से जांच की मांग को लेकर बड़ी संख्या में ग्रामीण व अन्य लोग जिला सचिवालय पहुंचे और रोष जताया। उन्होंने पुलिस अधीक्षक गंगाराम पूनिया से मुलाकात की तो कई ग्रामीणों ने एसपी को शपथ पत्र भी दिए। उन्होंने बताया कि महंत ने कुछ अन्य नाबालिग व महिलाओं के साथ भी गलत काम किया। मामले की संवेदनशीलता के चलते एसपी ने आश्वासन दिया कि जल्द आरोपित को गिरफ्तार कर लिया जाएगा तो वहीं मामले की गहनता से जांच की जाएगी। जरूरत पड़ी तो एसआइटी गठित कर दी जाएगी। वहीं ग्रामीणों ने कहा कि पुलिस ने जल्द महंत को गिरफ्तार नहीं किया तो वह प्रदर्शन करने से पीछे नहीं हटेंगे।

जिला सचिवालय पहुंचे बेगमपुरा आदर्श महासभा से जुड़े मानदास, एडवोकेट अनिल कसंल सहित अन्य ग्रामीणों ने पत्रकारों के समक्ष आरोप लगाते हुए बताया कि महंत ने कई नाबालिग से लेकर महिलाओं की भी जिंदगी से खेला है। उन्हें करनाल वासी एक महिला ने बताया था कि महंत ने उसके साथ गलत काम किया है। इसके बाद उस महिला ने यहां महिला थाना में शिकायत दी और फिर पुलिस ने केस दर्ज कर लिया था लेकिन अभी तक आरोपित को गिरफ्तार नहीं किया गया।

मामले में पीडि़ता ने आरोप लगाए थे कि उसका पति के साथ कोर्ट में केस चल रहा था। वह तनाव में थी, जिसके चलते उसने आध्यात्म से जुडऩा चाहा और गांव में महंत के पास चली गई। आरोप है कि वहां महंत ने करीब डेढ़ साल अपने मकान में उसे रखा। वहां खीर में नशीली दवा उसे खिला दी, जिससे वह बेसुध हो गई। इसके बाद महंत ने उसके साथ दुष्कर्म किया। मोबाइल में उसकी फोटो खींची। बाद में ये फोटो वायरल करने की धमकी देकर उसे ब्लैकमेल करते हुए उसके साथ कई बार दुष्कर्म किया। समाज में अपनी इज्जत बचाने के लिए वह चुप थी।

महिला ने बताया कि महंत ने कई लड़कियों व महिलाओं के साथ दुष्कर्म किया हुआ है। वहीं जिला सचिवालय पहुंचे ग्रामीणों ने कहा कि यदि पुलिस ने आरोपित महंत को गिरफ्तार नहीं किया तो वे पुलिस प्रशासन के खिलाफ सड़कों पर उतरने को मजबूर होंगे।

आरोपित की गिरफ्तारी के प्रयास : एसपी

एसपी गंगा राम पूनिया का कहना है कि कुछ लोग मामले में कार्रवाई के लिए मिले हैं। अन्य पीडि़तों के नाम तो उन्होंने नही बताए, लेकिन ऐसी आशंका अवश्य जताई है। मामले की जांच के साथ आरोपित की गिरफ्तारी के लिए हरसंभव कोशिश की जा रही है।

Edited By: Anurag Shukla