करनाल, जागरण संवाददाता। करनाल के इंद्री स्थित एक पेट्राेल पंप के दो सेल्समैन से हथियारों के बल पर तीन बदमाश करीब 50 हजार की नकदी लूटकर फरार हो गए। बदमाश जाते समय सेल्समैन के हाथ-पांव भी बांध गए और किसी तरह उन्होंने छूटकर पुलिस को सूचना दी।

गांव चांदसमंद वासी अमित कुमार ने बताया कि वह रिलायंस पेट्रोल पंप पर सेल्समैन है। सुबह करीब चार बजे वह अपने साथी सेल्समैन दीपक वासी गांव पटहेड़ा के साथ रात्रि ड्यूटी देते हुए आफिस के सामने बैठे थे। इसी दौरान तीन बदमाश आए और उन पर हथियार रख दिए और कहा कि जितना भी कैश है, निकालो। अमित ने बताया कि बदमाशों के भय से उसने अपनी जेब से चार से पांच हजार रुपये निकालकर दे दिए। इसके बाद साथी दीपक से कैश मांगा तो उसकी जेब में नहीं मिला। तभी बदमाशों ने लाकर की चाबी मांगी और जान से मारने की धमकी दी। दोनों को वे कार्यालय में ले गए, जहां से करीब 45 हजार रुपये निकाल लिए।

बदमाशों ने दोनों के हाथ-पांव बाध दिए और फरार हो गए। उन्होंने बताया कि इस वारदात को तीन बदमाशों ने अंजाम दिया जबकि उनके दो साथी सड़क पर ही खड़े रहे । किसी तरह अपने हाथ-पांव खोलकर उन्होंने अपने सीनियर को सूचना दी और वे भी मौके पर पहुंचे जबकि सूचना मिलते ही पुलिस टीम भी पहुंच गई। मौके पर फोरेंसिक टीम भी पहुंची और साक्ष्य जुटाए। वहीं इस वारदात से सनसनी फैल गई तो एसएचओ सचिन ने दावा किया कि बदमाशों को जल्द काबू कर लिया जाएगा।

कुरुक्षेत्र में पेट्रोल पंप प्रबंधक और सेल्समैन के साथ मारपीट की

सदर थाना पुलिस के अंतर्गत राष्ट्रीय राजमार्ग स्थित सीएनजी पेट्रोल पंप पर कुछ लोगों ने हमला बोल दिया। आरोपितों ने पेट्रोल पंप के प्रबंधक व सेल्समैन को गंभीर रूप से घायल कर दिया। आरोपित पेट्रोल पंप से तीन लाख रुपये ले गए। पुलिस ने शिकायत के आधार पर पांच लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया हे।

गांव टाटका निवासी कृष्ण कुमार ने सदर थाना पुलिस में शिकायत दर्ज कराई कि वह राष्ट्रीय राजमार्ग स्थित खानपुर कोलियां स्थित ढिल्लो फिलिंग स्टेशन पर बतौर प्रबंधक कार्यरत हूं। 14 सितंबर की रात आठ बजे वह ड्यूटी पूरी करने उपरांत जब घर चला गया तो कुछ लोगों ने लूटपाट व उसे जान से मारने की साजिश तैयार की। रात 10 बजे पेट्रोल पंप से उसे फोन आया कि पंप की मशीनें व लाइट खराब हो गई है वह तुरंत पंप पर आ जाए नहीं तो पंप बंद रहेगा। जैसे ही वह पंप पर आया तो गांव सांवला निवासी अरूण कुमार, अर्जुन बहादुर, जसमेर सिंह, कलाल माजरा निवासी सोहन लाल व दुधला निवासी आशीष कुमार ने पंप पर आते ही उस पर जानलेवा हमला बोल दिया। आरोपितों ने उसका मोबाइल फोन भी तोड़ दिया। उसने मौके से भाग कर अपनी जान बचाई। इसकी सूचना सदर थाना पुलिस को दी गई।

रात 12 बजे जब पुलिस मौके पर पहुंची तो देखा कि सीएनजी आपरेटर ज्ञान चंद को भी बुरी तरह से पीटा हुआ था और उसका भी फोन आरोपित लेकर फरार हो गए थे। शिकायतकर्ता ने अपना व ज्ञान चंद का मेडिकल कराया। सुबह जब वे पेट्रोल पंप पर पहुंचे तो देखा कि पंप से लगभग तीन लाख रुपये गायब थे। आरोपित पंप से तीन लाख रुपये चोरी कर ले गए। इसकी शिकायत सदर थाना पुलिस में दर्ज कराई। पुलिस ने कृष्ण कुमार की शिकायत पर अरुण कुमार, अर्जुन बहादुर, जसमेर सिंह, सोहन लाल व आशीष के खिलाफ जबरन पंप पर घुसने, मारपीट करने, चोरी करने व जान से मारने की धमकी देने का मामला दर्ज कर जांच एएसआइ नरेंद्र सिंह को सौंपी है। एएसआइ नरेंद्र सिंह ने बताया कि पुलिस मामले की जांच कर रही है। जल्द ही आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Edited By: Anurag Shukla