करनाल, जेएनएन। मौसम के तेवर फिलहाल स्थिर हैं। अप्रैल माह की शुरुआत में तापमान में नरमी देखने को मिली है। शुक्रवार सुबह बीते रोज के अधिकतम तापमान में आंशिक बढ़ोत्तरी दर्ज की गई जबकि नन्यूनतम तापमान में गिरावट दर्ज की गई है। फिलहाल रात को मौसम सामान्य बना हुआ है जबकि दिन में भी हवा चलने के कारण गर्मी अधिक नहीं सता रही।

मौसम विभाग का आकलन है कि आने वाले दिनों में मौसम साफ रहेगा। जबकि हालांकि चार अप्रैल से मौसम फिर करवट लेगा और नए सिरे से गर्मी का असर बढ़ना शुरू हाे सकता है। करनाल में शुक्रवार सुबह अधिकतम तापमान बीते रोज के स्तर से .2 डिग्री बढ़कर 33.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। जबकि न्यूनतम तापमान में कमी देखी गई। यह 9.2 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। सुबह के समय आर्द्रता बीते रोज के 47 प्रतिशत से करीब दस प्रतिशत बढ़कर 57 प्रतिशत दर्ज की गई। इस बीच मौसम में उतार-चढ़ाव का दौर जारी है। आलम यह है कि मार्च के आखिरी दिनों में जहां गर्मी सताने लगी थी और हवा मंद हो चली थी। वहीं अब कम से कम गर्मी से लोगों को राहत महसूस हो रही है। इसकी वजह हवा की गति में बढ़ोतरी मानी जा रही है।

शनिवार से आएगा मौसम में बदलाव

मौसम विभाग का अनुमान है कि शुक्रवार के बाद धीरे धीरे मौसमी बदलाव देखने को मिल सकता है। इसके तहत चार अप्रैल से पारा ऊपर की ओर जाना शुरू हो जाएगा। इस दिन 35 डिग्री तक तापमान रह सकता है। जबकि पांच अप्रैल को तापमान बढ़कर 37 डिग्री तक भी जा सकता है। इसके साथ ही न्यूनतम तापमान में भी बढ़ोत्तरी देखी जा सकती है। 

स्वास्थ्य को लेकर रहें सचेत 

बदलते मौसम में विशेषज्ञों ने स्वास्थ्य का खास ध्यान रखने की सलाह दी है। उनका साफ कहना है कि मौसम में लगातार आ रहे उतार-चढ़ाव के बीच कोरोना का खतरा भी लगातार बना है। ऐसे में यह जरूरी नहीं है कि परंपरागत लक्षणों के आधार पर ही आप किसी प्रकार की राय कायम करें। चिकित्सकों के अनुसार तेज बुखार, खांसी-जुकाम, बदन दर्द, गला खराब को ही कोरोना संक्रमित होने का कारण नहीं माना जा सकता। इसके लक्षण कुछ अलग भी हो सकते हैं।

सामान्य अवस्था में भी फैल रहा कोरोना

बहुत सामान्य अवस्था में भी कोरोना संक्रमण फैल रहा है। कोरोना अपना स्वरूप लगातार बदल रहा है। इसके नए स्ट्रेन में यह देखने में आया है कि जो लोग डायरिया से ग्रस्त हुए हैं या फिर जो युवा लगातार थकान यानि शारीरिक कमजोरी महसूस कर रहे हैं, वे भी कोरोना संक्रमित पाए जा रहे हैं।

कोविड-19 एडवाइजरी का करें पालन

लगातार बदल रहे कोरोना के स्वरूप ने चिकित्सकों की चिंता को खासा बढ़ा दिया है। करनाल जिले में इस प्रकार के कई मामले देखने को मिल रहे हैं। ऐसे में स्वास्थ्य विभाग ने लोगों से अपील की है कि कोरोना से बचाव के लिए कोविड-19 के लिए जारी की गई एडवाइजरी का नियमित रूप से पालन करें। लापरवाही से महामारी विकराल रूप ले सकती है, इसके गंभीर परिणाम हमारे सामने आ सकते हैं।

पानीपत की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Edited By: Umesh Kdhyani