पानीपत, जेएनएन। पानीपत में इश्‍क और खूनी खेल का मामला सामने आया है। एक विवाहिता अपने से 17 साल छोटे युवक से इश्‍क कर बैठी। जब पति पत्‍नी और उसके प्रेमी के बीच बाधा बनने लगा तो उसे दर्दनाक मौत दी।

मामला पानीपत के डाहर गांव का है। महिला ने पति को सब्‍जी में नींद की 20 गोलियां खिलाईं। बेहोश होने पर प्रेमी संग मिलकर चाकू से 15 वार करके मार डाला। 50 वर्षीय कर्मबीर अपनी पत्‍नी ज्‍योति और प्रेमी श्रीकांत के संबंध में बाधा बन रहा था। हत्‍या के बाद श्रीकांत ने दोस्‍त के साथ मिलकर शव को चादर से लपेटकर बाइक पर रखकर खेत में ले गया। यहां पर जब दफन करने में असफल रहा तो उसे खेत में बने कोठड़े में डालकर फरार हो गया।

पत्‍नी ने हत्‍या का राज छिपाने के लिए खून से सने कपड़े और रजाई को जला दिया। इसके बाद ताला लगाकर अपने मायके बहादुरगढ़ चली गई। जब भाई को शक हुआ तो बहन को पुलिस को सौंप दिया। कर्मबीर की 15 साल पहले शादी हुई थी और उसका एक बेटा और बेटी है।

ढाबा संचालक से हुआ प्‍यार

डाहर गांव का 50 वर्षीय कर्मबीर तीन भाइयों में सबसे छोटा था। उसकी तीन बहनें भी हैं। उसकी बहादुरगढ़ निवासी ज्योति के साथ 15 साल पहले शादी हुई थी। कर्मबीर शादी के पहले से ही परिवार से अलग रहता था। कर्मबीर की 12 वर्षीय बेटी अदिति व 10 वर्षीय बेटा मन्नू है। वह फेरी लगाकर कपड़े बेचता था। तीन साल से ज्योति का ढाबा संचालक डाहर गांव के श्रीकांत से प्रेम प्रसंग चल रहा था। कर्मबीर पत्नी ज्योति को अक्सर टोकता था कि श्रीकांत से बात नहीं करे।

डयूटी मजिस्ट्रेट की निगरानी में शव बरामद किया

इसराना थाना प्रभारी इंस्पेक्टर दीपक कुमार ने बताया कि शक के आधार पर पूछताछ की तो श्रीकांत ने वारदात कुबूल कर ली। आरोपित श्रीकांत व ज्योति को गिरफ्तार कर दो दिन की पुलिस रिमांड पर लिया है। रिमांड के दौरान आरोपितों से वारदात में इस्तेमाल चाकू व बाइक बरामद की जाएगी। इसके अलावा फरार आरोपित के ठिकानों का पता लगाया जाएगा। ड्यूटी मजिस्ट्रेट नायब तहसीलदार की निगरानी में कोठड़े से कर्मबीर का गला-सड़ा शव बरामद किया गया। सिविल अस्पताल में पोस्टमार्टम करवाकर शव को स्वजनों को सौंप दिया है।

Edited By: Anurag Shukla