मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

पानीपत/जींद, जेएनएन। प्रेमिका की बेटी पर गलत नजर डालने पर प्रेमी की हत्या कर दी गई। करेला गांव के कैनाल गार्ड बिजेंद्र की हत्या उसकी प्रेमिका ने ही अपने भाइयों से कराई। पुलिस ने करेला गांव की राजबाला, उसके ममेरे भाई भिवानी जिले के गांव सालेवाला के सुनील, सतीश और रविंद्र को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने आरोपितों को अदालत में पेश कर दो दिन की रिमांड पर लिया। 

पूछताछ में आरोपित राजबाला ने बताया कि बिजेंद्र उसकी बेटी से शारीरिक संबंध बनाना चाहता था। इसलिए उसने अपने भाइयों से उसकी हत्या करवा दी। इसके बदले उसने ममेरे भाइयों को सुपारी के 1.44 लाख रुपये दिए थे। सौदा 1.60 लाख रुपये में तय हुआ था।

दोनों में थे अवैध संबंध
आरोपितों ने बताया कि पिछले 5-6 सालों से कैनाल गार्ड बिजेंद्र के राजबाला के साथ अवैध संबंध थे। बिजेंद्र राजबाला की बेटी के साथ भी शारीरिक संबंध बनाना चाहता था। राजबाला ने यह बात अपने भाई राजस्थान के रामपुरा बैरी निवासी विकास को बताई। इसके बाद विकास व उसके मामा के लड़के सतीश व रविंद्र ने राजबाला के साथ मिलकर बिजेंद्र की हत्या की साजिश रची। 

खेत में बने कमरे में वारदात को दिया गया अंजाम
राजबाला ने बिजेंद्र को कहा कि वह 30 अगस्त की रात को उसके घर से उसे ले जाए। इस पर बिजेंद्र स्कूटर पर राजबाला को बैठाकर अपने खेतों में बने कमरे पर ले गया। राजबाला ने पहले ही भाइयों को वहां बुला लिया था। जब राजबाला और बिजेंद्र वहां पहुंचे तो 10 मिनट बाद ही तीनों ने बिजेंद्र पर हमला कर दिया। सुनील और रविंद्र ने बिजेंद्र को पकड़ लिया, जिसके बाद सतीश ने चाकू घोंप कर हत्या कर दी।

कई बार में दी सुपारी की रकम
सुपारी के एक लाख 44 हजार रुपये दे दिए गए थे। ये कई बार में दिए गए। पहले 34 हजार रुपये नकद, उसके बाद 30 हजार रुपये दिए गए। 50 हजार रुपये राजबाला के खाते से 30 हजार रुपये उसकी बेटी के खाते से हत्यारोपितों को ट्रांसफर्मर किए गए। आरोपित एक महीने से बिजेंद्र की हत्या करने की फिराक में थे। पहले वे जुलाना की ब्राह्मण धर्मशाला में रुके थे।

कैनाल गार्ड की प्रेमिका व उसके मामा के लड़कों को गिरफ्तार किया है। तीनों को रिमांड पर लेकर पूछताछ की जा रही है।
कप्तान सिंह , डीएसपी, जींद

Posted By: Anurag Shukla

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप