जागरण संवाददाता, समालखा : बापौली रोड स्थित भापरा स्टेडियम से गढ़ीछाज्जू जाने वाली सड़क पर निर्माण कार्य बंद पड़ा है। राहगीरों को आवाजाही में परेशानी हो रही है। विभाग लॉकडाउन में मजदूरों के घर चले जाने से काम बंद होने की बात कह रहा है। करीब 30 करोड़ की लागत से तीन किमी रोड का निर्माण होना है। इसे 12 से 18 फीट चौड़ा किया गया है। टेंडर की समय सीमा भी समाप्त हो चुकी है।

पिछले साल सर्दी से पहले ही ठेकेदार ने निर्माण के लिए रोड को उखाड़ा था। फिर सर्दी आ जाने से पांच माह काम बंद हो गया। सर्दी जाने के बाद पिछले महीने काम शुरू हुआ। पत्थर के दो लेयर पड़ते ही लॉकडाउन के डर से मजदूरों की घर वापसी शुरू हो गई। तीसरा लेयर और तारकोल डालने का काम अधर में लटक गया। इंडस्ट्रीज, स्कूल सहित कई गांवों का है रास्ता

गढ़ीछाज्जू रोड रोड से शहरमालपुर, मतरौली, जौरासी जाने का रास्ता है। इस पर इंडस्ट्री और निजी स्कूल भी हैं। रोड के खराब होने से करीब 8 माह से लोग परेशान हैं। उन्हें आवाजाही में परेशानी हो रही है। हादसे का डर रहता है। पत्थरों से टायर को नुकासन होता है। गढ़ीछाज्जू जाने का तो यह मुख्य रास्ता है। यहां जाने के अन्य रास्ते भी खस्ताहाल हैं। मजदूर चले गए

जेई विरेंद्र वर्मा ने बताया कि पहले ठेकेदार की ओर से काम रूका था। पिछले महीने उसने रजवाहे पर पुल बनाने सहित रोड पर दो लेयर पत्थर बिछाया। अब लॉकडाउन के डर से मजदूर चले गए, जिससे काम बंद हो गया। मजदूरों के आने पर काम जल्द से जल्द शुरू करवाया जाएगा। तीन किमी सड़क का निर्माण करीब 30 करोड़ से होना है।

Edited By: Jagran