पानीपत, जेएनएन। पानीपत में कोरोना वायरस (कोविड-19) के पॉजिटिव केसों की संख्या लगातार  बढ़ती जा रही है। पहले, इग्‍लैंड का युवक, इसके बाद मिल कर्मी, स्‍टाफ नर्स और अब मॉडल टाउन की 53 वर्षीय महिला की सैंपल रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। महिला दुबई से पानीपत लौटी थी। पानीपत में अब तक चार पॉजिटिव केस सामने आ चुके हैं। पांच आइसोलेशन में हैं। वहीं चार सौ लोग होम क्‍वारंटाइन हैं।

करनाल: कोविड-19 अपडेट दोपहर तीन बजे तक 

अभी तक कुल सैंपल भेजे गए- 40

अभी तक आई कुल रिपोर्ट- 28

निगेटिव रिजल्ट - 12 

प्रतीक्षित रिपोर्ट - 12 

पॉजिटिव रिजल्ट - अभी तक शून्य

Ambala में अभी तक एक भी पॉजिटिव केस नहीं आया है। 28 संदिग्ध मरीजों के सैंपल जांच को भेजे गए हैं। आज 7 की रिपोर्ट आनी है।

Yamunanagar में कोरोना के चार संदिग्ध मरीजों की रिपोर्ट आज आएगी। इनके सैंपल लेकर स्वास्थ्य विभाग ने जांच के लिए भेजे हुए हैं। अब से पहले 10 लोगों की रिपोर्ट आ चुकी हैं। इनकी रिपोर्ट निगेटिव आई है।

Karnal में 32 सैंपल की रिपोर्ट निगेटिव आई है। जिला प्रशासन की बाकी चार रिपोर्ट पर निगाह टिकी हुई है। 

Jind में एक भी पॉजिटिव केस नहीं

जींद में विदेश व दूसरे राज्यों से 327 लोग आए हैं। जिनमें से 282 की स्वास्थ्य की जांच हो चुकी है, जिनमें से किसी में भी कोरोना के लक्षण नहीं मिले हैं। वहीं बाकी लोगों को पुलिस की सहायता से ट्रैक किया जा रहा है। जिले में फिलहाल कोरोना पॉजिटिव कोई केस नहीं है। 

सांसद नायब सिंह सैनी ने अपने निवास स्थान पर भाजपा जिला अध्यक्ष कुरुक्षेत्र धर्मबीर के साथ लॉकडाउन के समय जरूरतमंदों को खाना पहुंचाने से सम्बंधित विषय पर चर्चा की। उन्‍होंने अपनी तरफ से हर सम्भव सहयोग देने का भी आश्वासन दिया।

Nayab

लॉकडाउन के कारण 14 अप्रैल तक फ्री हुआ बसताड़ा टोल

राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-44 पर स्थित बसताड़ा टोल प्लाजा 14 अप्रैल तक फ्री हो चुका है। टोल फ्री किए जाने के आदेश गुरुवार सुबह से लागू कर दिए गए। ट्रैफिक के आंकड़ों को देखते हुए टोल पर छह लेन खुली रखी गई है, जबकि शेष बूथों को अस्थाई रूप से बंद कर दिया गया है। टोल कम्पनी ने सुरक्षा के मद्देनजर निर्धारित संख्या सिक्योरिटी गार्ड तैनात कर रखे गए हैं। टोल प्रबन्धक मनीष कुमार ने बताया कि गुरुवार सुबह उन्हें टोल फ्री करने के आदेश मिले थे।

दुबई से आए युवक को घर से उठा लाई टीम

कई दिन पहले एक युवक दुबई से अपने घर तहसील कैंप लौटा था। युवक ने खुद को घर में बंद कर रखा था। इसकी भनक पड़ोसियों को लगी। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग को सूचित किया। बुधवार रात को विभाग व पुलिस की टीम तहसील कैंप पहुंची और युवक को सामान्य अस्पताल लाया गया। जांच की तो गई तो उसमें कोरोना के लक्षण नहीं थे। इसी वजह से युवक को छोड़ दिया गया।

दुबई से लौटे बाइक सवार युवक पुलिस ने घर भेजा

दुबई से एक युवक एनएफएल के पास विकास नगर में लौटा था। घर में क्वारंटाइन किया गया यह युवक बृहस्पतिवार को बाइक से बस अड्डा का पास बाइक से घूम रहा था। इसके हाथ पर स्वास्थ्य विभाग की मुहर लगी थी। पुलिसकर्मी ने युवक को पकड़ लिया। युवक ने बताया कि व एटीएम से रुपये निकलवाने आया है। इसके बाद डीएसपी मुख्यालय सतीश कुमार वत्स ने सिविल सर्जन से बात की तो उन्होंने बताया कि युवक का 14 दिन का इलाज हो चुका है। पुलिस ने युवक को घर भेज दिया।

सवा दो घंटे की ट्रेनिंग के बाद कर्मचारियों ने उठाया कचरा

सामान्य अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में कोरोना मरीज व संदिग्ध भर्ती हैं। इन मरीजों का कचरा उठाने के लिए दो कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई। इन कर्मचारियों को दो घंटे तक ट्रेनिंग दी गई। इसके बाद स्पेशल पोशाक पहनाई गई और उन्होंने कचरे को स्पेशल गाड़ी में रखा। ये कचरा जींद भेज गया।

नर्स के स्वजनों को आइसोलेशन में रहने की हिदायत

गुरुग्राम के एक बड़े अस्पताल नर्स कोरोना पॉजिटिव पाई गई थी। यह नर्स ईदगाह कॉलोनी में रहती है। स्वास्थ्य विभाग ने नर्स के 14 स्वजनों को होम आइसोलेशन में रहने की हिदायत दी है। घर के बाह होम गार्ड की ड्यूटी लगा दी है। गार्ड ही उनके लिए खाद्य सामग्री व अन्य जरूरत का सामान लाकर देगा। इसी तरह से आसपास के लोगों की भी टीम ने जांच की है। अन्य किसी व्यक्ति में कोरोना के लक्षण नहीं मिले हैं

ये केस मिल चुके हैं

मॉडल टाउन के राइस मिल मालिक और उनकी नौल्था निवासी मजदूर की सैंपल रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई।

गुरुग्राम के एक बड़े अस्पताल की नर्स की सैंपल रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई। नर्स ईदगाह कॉलोनी में रहती है।

महिला के स्वजन घर में आइसोलेशन में।

मॉडल टाउन की महिला की रिपोर्ट पॉजिटिव मिलने पर उनके पति, बेटे व बेटी को घर में आइसोलेशन में हैं। उनके घर पुलिस की पहरा लगा दिया है। उन्हें किसी बाहरी व्यक्ति से नहीं मिलने दिया जा रहा है। उनके लिए खाद्य सामग्री व अन्य जरूरी वस्तु पुलिस लाकर देगी।

नौल्था के 1615 घरों की हुई जांच

स्वास्थ्य विभाग की टीम के 50 कर्मचारियों ने 18-18 घंटे ड्यूटी कर नौल्था गांव के 1615 मकानों की स्क्रीनिंग कर 9778 लोगों की जांच की गई। इसमें से नौ लोगों के सैंपल लिए गए। इन पर टीम नजर बनाए हुए है। राइस मिल के 80 कर्मचारियों की भी जांच की गई। इसी मिल की महिला कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव पाई गई थी।

गाड़ियां भी सैनिटाइज

सामान्य अस्पताल में कर्मचारियों ने एंबुलेंस और डॉक्टरों की गाड़ियों को सैनिटाइज किया। इसी तरह से सेक्टर-29 में थाना प्रभारी की गाड़ी को भी सैनिटाइजर किया। सिविल सर्जन डॉ. संतलाल वर्मा ने स्टाफ को हिदायत दी कि वे सावधानी बरतें। ज्यादा मरीजों की भीड़ इकट्ठा न होने दें।

गार्डो से उलङो तीमारदार

कोरोना ओपीडी में दूसरे दिन भी खांसी, जुकाम के मरीज पहुंचे। कई मरीजों से पूछा कि वे विदेश तो नहीं आए हैं। न कहने पर मेडिसन ओपीडी में भेज दिया। गाडरें ने स्वजनों से कहा कि मरीज के साथ एक ही तीमारदार जाएगा। इसको लेकर स्वजन भड़क गए और गार्ड के साथ बदतमीजी की। गाडरें ने उन्हें समझाकर घर भेज दिया।

ट्रक हेल्पर को यार्ड में भेजा

रजापुर में किराये पर रहने वाले युवक को टीम ने रिफाइनरी के पास आइसोलेशन में रखा है। युवक महाराष्ट्र में ट्रक पर हेल्पर का काम करता है। बुधवार रात को युवक महाराष्ट्र से लौटा था और उसे खांसी-जुकाम था। वह दवा लेने गया था। इसी दौरान स्वास्थ्य विभाग की टीम ने युवक को पकड़ लिया

तरावड़ी विदेश से पहुंचे 19 लोगों के घरों के बाहर नोटिस

विदेश से पहुंचने वाले लोगों के घरों के बाहर नोटिस चस्पा किए गए हैं। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी डॉ. कृष्णकांत एवं मेडिकल ऑफिसर डॉ. राजीव ने बताया कि 19 लोग विदेश से तरावड़ी अपने घर पहुंचे थे उनके घर के सामने नोटिस लगाया गया है। उन्हें घर से बाहर आने और कहीं घूमने की इजाजत नहीं है।

Posted By: Anurag Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस