विजय गाहल्याण, पानीपत

विधानसभा चुनाव में प्रसिद्ध पहलवान और कोच समय निकाल मतदान करने पहुंचे। एशियन अंडर-23 स्पर्धा में रजत विजेता नैना पहलवान लखनऊ में इंडिया कुश्ती कैंप से पैतृक गांव सुताना पहुंचीं। इसी तरह से एशियन गेम्स में कबड्डी के स्वर्ण पदक विजेता ओएनजीसी दिल्ली के सिक्योरिटी ऑफिसर प्रवीण मलिक ने गांव उग्राखेड़ी में मतदान किया। 25 से ज्यादा राज्य, राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय बॉक्सर तैयार कर चुके बॉक्सिंग कोच सुताना गांव के सुनील कुमार ने मतदान किया। पूर्व अंतरराष्ट्रीय कबड्डी कोच बलवान सिंह दहिया ने मॉडल टाउन के शांति नगर में मतदान किया। इसलिए मतदान करने पहुंचीं

अंतरराष्ट्रीय पहलवान नैना ने बताया कि वह इंडिया कैंप लखनऊ में अभ्यास कर रही है। तीन साल से वोट बना हुआ है, लेकिन मतदान नहीं कर पाई थीं। इसका मलाल था। अब पहली बार मतदान किया है। ताकि अच्छा एमएलए चुने और खेलों के क्षेत्र में सुधार हो। छुट्टी लेकर मतदान किया, युवाओं के मत डलवाए

अंतरराष्ट्रीय कबड्डी खिलाड़ी प्रवीण मलिक ने कहा कि गांवों में अभी भी खेल के मैदान व कोचों की कमी है। ऐसा विधायक चुना जाए तो अपने क्षेत्र में खेलों को बढ़वा दे सके। इसीलिए गांव आया हूं और परिवार सहित मतदान किया है। कई युवाओं से भी मतदान कराया। पहली बार किया मतदान, मिला सुकून

बॉक्सिग कोच सुनील कुमार ने बताया कि चुनावों में ड्यूटी लगती थी। इसी वजह से मतदान नहीं कर पाता था। इस बार छुट्टी थी। पहली बार मतदान किया है। सुकून मिला है। उन्होंने बॉक्सिग की ट्रेनिग लेने वाले लड़के व लड़कियों को मतदान करने के लिए जागरूक किया। सोनीपत से ट्रायल की तैयारी छोड़ डालने आए वोट

अंतरराष्ट्रीय कबड्डी कोच बलवान सिंह दहिया ने बताया कि सोनीपत में कबड्डी खिलाड़ियों का ट्रायल होना है। मतदान उसी प्रत्याशी के पक्ष में किया है जो खेलों को बढ़ावा देने का वादा करता था।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप