पानीपत/ करनाल, जेएनएन। भारत के सौ से अधिक खुशहाल जीवन निर्वाह करने योग्य सबसे बेहतर शहरों की सूची में करनाल ने एक बार फिर खुद को बखूबी साबित किया है। म्यूनिसिपल परफॉरमेंस इंडैक्स (एमपीआई)-2020-2020 में दस लाख से कम आबादी के निगमों में करनाल को देश भर के सर्वश्रेष्ठ निगमों में 51.39 अंकों के साथ चौथा स्थान हासिल हुआ। सस्टेनिबिलिटी, गवर्नेंस और सर्विसेज जैसी श्रेणियों में शानदार प्रदर्शन के आधार पर करनाल ने यह कमाल कर दिखाया। हालांकि, रैंकिंग के अनुसार इकोनोमिक एबीलिटी, प्लानिंग और टेक्नोलोजी जैसी श्रेणियों में करनाल के प्रदर्शन में अभी सुधार की जरूरत है।   

आयुक्त ने बताया कि करनाल ने इस सर्वेक्षण के तहत बड़े निकायों से तुलना में शानदार प्रदर्शन किया। नई दिल्ली, तिरूपति व गांधीनगर के बाद करनाल नगर निगम को देश में चौथा रैंक हासिल हुआ है। करनाल के उपायुक्त निशांत यादव ने इसे गर्वपूर्ण उपलब्धि करार देते हुए टीम वर्क का सकारात्मक परिणाम बताया। 

इन पहलुओं पर किया गया सर्वे

वीरवार को केंद्रीय आवासन और शहरी कार्य राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) हरदीप सिंह पुरी की ओर से ईज ऑफ लिविंग इंडेक्स (ईओएलआई) 2020 और नगर पालिका कार्य निष्पादन सूचकांक (एमपीआई) 2020 की अंतिम रैंकिंग जारी की गई। इनमें एमपीआई के तहत करनाल का ओवरआल प्रदर्शन काफी अच्छा रहा। इस बाबत करनाल के नगर निगम आयुक्त विक्रम ने बताया कि एमपीआई के एमपीआई के फ्रेमवर्क में 20 विभिन्न क्षेत्रों जैसे शिक्षा, स्वास्थ्य, जल और अपशिष्ट जल, सोलिड वेस्ट मैनेजमेंट और स्वच्छता, इन्फ्रास्ट्रक्चर, राजस्व प्रबंधन, व्यय प्रबंधन, डिजिटल प्रशासन, डिजिटल साक्षरता, योजना तैयार करना, योजना कार्यान्वयन, पारदर्शिता और पारदर्शिता जवाबदेही, मानव संसाधन, भागीदारी और प्रभावशीलता को शामिल किया गया था। 

ओडीएफ और स्वच्छ सर्वेक्षण में भी अच्छा प्रदर्शन 

निगम आयुक्त ने बताया कि करनाल नगर निगम ने पिछले तीन वर्ष से ओडीएफ प्लस-प्लस सर्टिफिकेशन भी कायम रखा है। यही नहीं, करनाल स्वच्छ सर्वेक्षण में भी लगातार सम्मानजनक रैंकिंग हासिल कर रहा है। उन्होंने नागरिकों से अपील की कि इस उपलब्धि को भविष्य में भी बनाए रखें। आयुक्त ने कहा कि शहर को साफ-सुथरा बनाए रखने, नागरिकों को बेहतर सुविधाएं मुहैया करवाने और उनके जीवन स्तर को आसान बनाने के लिए नगर निगम दिन-रात प्रयासरत रहेगा।

पानीपत की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

हरियाणा की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Edited By: Umesh Kdhyani