जागरण संवाददाता, पानीपत : गोहाना मोड़ पर शनिवार दोपहर 12:50 बजे गाड़ियां दौड़ रही थी। ट्रैफिक पुलिस का एक जवान खुशीराम वाहनों की पा¨सग करवा रहा था। इशारा देने के बावजूद भी कुछ लोग वाहनों के बीच से रोड पार कर गए। रोडवेज चालक चौराहे पर बस रोक सवारियों को उतारने लगा। जाम लगा तो दुकान में बैठे ट्रैफिक पुलिस के दो अन्य जवान दौड़कर आए। बस चालक को नजरअंदाज कर आगे बढ़ गए। अन्य वाहनों के हॉन का शोर लगातार सुनाई देता रहा। बस चालक सवारियों को उतार गंतव्य की ओर रवाना हो गया। लालबत्ती चौक

शनिवार दोपहर 1:15 बजे ट्रैफिक पुलिस के दो जवानों ने एक लोडेड ट्राले को नो-एंट्री में घुसने की वजह से रोक दिया। ट्राला चालक हाकिम उनके आगे हाथ-पैर जोड़ रहा था। पुलिसकर्मी उस ट्राले से संबंधित दस्तावेजों की जांच कर रहे थे। चालान को लेकर लगभग आधा घंटे तक बातचीत का दौर चला। पैसे न होने की बात कह कर उसे छोड़ने गुहार लगता रहा। इस दौरान लालबत्ती चौक के दोनों ओर केवल दो जवान ही वाहनों को कंट्रोल करने में कड़ी मशक्कत करते दिखाई दिए। लगभग आधे घंटे तक ट्राले चालक को रोकने, लगातार चालक को धमकाने की स्थिति पुलिसकर्मियों की मंशा कुछ और ही बयां कर रही है। संजय चौक

तीसरे पहर 3:15 बजे जाम लग रहा। चौक से लगभग सौ मीटर दूरी पर स्थित इलाहाबाद बैंक तक वाहनों की कतार थी। करनाल की ओर से आने वाले वाहन बेरोक-टोक चलते दिखाई दिए। लोग रोड पार करने के लिए ट्रैफिक पुलिसकर्मियों की ओर से इशारा करने का इंतजार कर रहे थे। लेकिन पुलिसकर्मी बातचीत में मशगूल रहे। मजबूरन लोगों को जान हथेली पर लेकर रोड पार करना पड़ा। ओवरब्रिज के नीचे पार्किंग बनने के बावजूद भी संजय चौक के पास से जाम खत्म होता नजर नहीं आ रहा। ट्रैफिक नहीं चालान पर रहता है ज्यादा ध्यान

जाटल रोड निवासी मुरली मनोहर के अनुसार गोहाना मोड़ पर ट्रैफिक पुलिस के कम से कम चार जवानों की जरूरत होती है। पुलिस ट्रैफिक पर कम और चालान काटने की ओर अधिक ध्यान देती है। अक्सर जवान इधर-उधर दुकानों में बैठकर आराम फरमाते हैं। ओवरब्रिज की छांव में सुस्ताते है जवान

हनुमान कालोनी के राजीव ने बताया कि संजय चौक पर हर समय जाम की स्थिति रहती है। पुलिसकर्मी बिना हेलमेट लगाए चलने वाले वाहन चालकों की धरपकड़ में व्यस्त रहते हैं। अन्यथा कुर्सियों पर बैठकर आराम फरमाते है। दोपहर के समय कोई भी पुलिसकर्मी ओवरब्रिज के नीचे छांव से बाहर नहीं निकलता। दो हिस्सों में बांटा शहर, लेकिन जाम हटाने में पुलिस नाकाम

इंसार बाजार निवासी संजय कुमार का कहना है कि लालबत्ती चौक शहर के मुख्य चौराहों में शामिल है। यही कट बंद होने के कारण राहगीरों को काफी दूरी तक घुम कर आना पड़ता है। शहर दो हिस्सों में बंट चुका है। उसके बावजूद भी ट्रैफिक पुलिस शहर को जाम से निजात दिलाने में नाकामयाब साबित हो रही है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस