अंबाला, जागरण संवाददाता। अंबाला रेंज की आइजी भारती अरोड़ा आज को रिलीव हो गईं। एक दिन पहले मंगलवार को आइपीएस अधिकारी भगवा वस्त्रों में दिखीं। कई संस्थाओं के लोग भारती अरोड़ा से मिले और उनके कार्यकाल को कभी न भुला पाने की बात कही। आइपीएस अधिकारी ने स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति (वीआरएस) मांगी थी, जिसे राज्य सरकार ने मंजूर कर लिया था। भारती अरोड़ा एक दिसंबर को दोपहर बाद रिटायर हो जाएंगी। प्रभु की भक्ति के लिए उन्होंने वीआरएस ली है।

एक अगस्‍त को मांगा था वीआरएस

बता दें कि आइपीएस भारती अरोड़ा ने भगवान श्रीकृष्ण की भक्ति की राह पर चलने के लिए एक अगस्त 2021 को वीआरएस मांगी थी, लेकिन राज्य के गृह मंत्री अनिल विज ने पुनर्विचार के लिए फाइल पर नोङ्क्षटग लिख दी थी। अरोड़ा अपने फैसले पर कायम रहीं, जिसके चलते दोबारा से फाइल डीजीपी मुख्यालय से होते हुए गृह मंत्री अनिल विज और मुख्यमंत्री तक पहुंची थी। इसके बाद वीआरएस पर मुहर लगा दी गई। भारती अरोड़ा हरियाणा में राजकीय रेलवे पुलिस में एसपी, अंबाला एसपी, कुरुक्षेत्र एसपी, राई स्‍पोट्र्स काम्प्लेस में प्रिंसिपल, करनाल रेंज में आइजी रही हैं।

विदाई समारोह में शामिल हुए अधिकारी

आइजी के रिलीव होने से पहले उनके सम्मान में विदाई समारोह का आयोजन किया गया। इस दौरान मंडल आयुक्त रेनू फुलिया, डीसी विक्रम सिंह, एसपी अंबाला जशनदीप सिंह रंधावा, पुलिस अधीक्षक कुरुक्षेत्र और यमुनानगर के पुलिस अधीक्षक कमलदीप गोयल, अतिरिक्त-पुलिस अधीक्षक पूजा डाबला व अन्य पुलिस अधिकारियों ने भाग लिया। भारती अरोड़ा ने हरियाणा पुलिस विभाग में साहसिक, अनुभवी, कुशल नेतृत्व, धार्मिक आस्था/भक्तिभाव रखने व ईमानदार महिला पुलिस अधिकारी के रूप में 23 वर्ष तक सेवा करने उपरान्त करीब 10 वर्ष पहले ही स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति प्राप्त की है।

Edited By: Anurag Shukla