जागरण संवाददाता, समालखा : दशहरा पर्व के मौके पर गांव भोड़वाल माजरी में लड़कियों की दौड़ प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। मुख्यातिथि समाज सेवी सुरेंद्र छौक्कर रहे। प्रतियोगिता की विजेता खिलाडिय़ों को पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया।

छौक्कर ने कहा कि शिक्षा के साथ खेल का भी हमारे जीवन में महत्व है। इससे शारीरिक व मानसिक विकास भी होता है। प्रतियोगिता से प्रतिभा को प्रोत्साहन मिलता है। उनमें आगे बढऩे की ललक पैदा होती है। उन्होंने कहा कि ग्रामीण आंचल में प्रतिभाओं की कमी नही हैं। विश्व पटल पर गांवों से निकले खिलाड़ी देश का नाम रोशन कर रहे हैं। सात वर्ष की आयु में 200 मीटर रेस में दीक्षा व स्नेहा संयुक्त रूप से प्रथम, ज्योति द्वितीय, निशु तृतीय व मानवी चतुर्थ स्थान पर रही। जबकि सात से दस आयु वर्ग में 400 मीटर में तनीषा प्रथम, मिनाक्षी व तनीका संयुक्त रूप से द्वितीय, नीलम तृतीय व अंजलि ने चतुर्थ स्थान प्राप्त किया। 11 से 14 आयु वर्ग में 800 मीटर में तनीषा प्रथम, नेहा द्वितीय, कीर्ति तृतीय व जन्नत चतुर्थ स्थान पर रही। 14 से 17 आयु वर्ग में 1600 मीटर में पायल ने प्रथम, आरती द्वितीय, मुस्कान तृतीय व भूमिका चौथे स्थान पर रही। मामन सिंह, हरेन्द्र, विजयपाल व प्रदीप ने निर्णायक मंडल की भूमिका निभाई। इस मौके पर सोनू, कर्ण सिंह, सुनील मौजूद रहे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस