जागरण संवाददाता, पानीपत : आपने स्वच्छ हरियाणा एप के बारे में तो जरूर सुना होगा। शहर में कहीं भी पड़े कचरा, खराब स्ट्रीट लाइट, ओवर फ्लो सीवर-नाला, मृत पशु-जानवर और गंदे-बंद टायलेट की फोटो सहित शिकायत इस एप पर अपलोड करोगे तो तीन घंटे में समस्या का निस्तारण होगा। समाधान नहीं होने पर संबंधित कंपनी पर नगर निगम दो हजार रुपये का जुर्माना लगाएगा। एजेंसियों ने इसके लिए मोबाइल नंबर भी जारी किए हैं। मोबाइल पर शिकायत करने पर 10 से 15 मिनट में समाधान होने का दावा किया गया है।

एप नया नहीं है बल्कि दो अक्टूबर-2020 को तत्कालीन शहरी स्थानीय निकाय मंत्री अनिल विज ने मोबाइल एप स्वच्छ हरियाणा लांच किया था। करीब 21 माह बीतने के बाद भी बहुत कम लोग इस एप का इस्तेमाल कर रहे हैं। अब निगम ने इस पर संज्ञान लेते हुए सभी निकायों को इस एप का ज्यादा से ज्यादा प्रचार करने को कहा है। अपने मोबाइल से ऐसे करें शिकायत

स्वच्छ हरियाणा एप कोई भी व्यक्ति अपने एंड्रायड फोन में प्ले स्टोर से डाउनलोड कर सकता है। मोबाइल नंबर डालने के बाद एप खुल जाएगा। एप में पांच कैटेगरी दिखाई देंगी। जिस व्यक्ति को शिकायत करनी है, उसी श्रेणी का प्रयोग कर फोटो डालकर कर सकते हैं। उधर, संबंधित अधिकारियों को समस्या का निपटान करने के बाद उसका फोटो भी अपलोड करना होगा। अगर अगर शिकायत का निपटान नहीं होता है तो आनलाइन ही बताना होगा कि क्या दिक्कत रही है। इसके बाद अगर कई दिन तक शिकायत का समाधान नहीं हुआ तो नगर निगम की सेनेट्री ब्रांच द्वारा जुर्माना लगाया जाएगा। दिनभर में आती है चार से पांच शिकायतें

स्वच्छ हरियाणा एप में शिकायत करने वालों की संख्या काफी कम है। जानकारी कम होने के कारण चार से पांच लोगों की ही शिकायतें आ पाती है। खुद नगर निगम भी इस एप के बारे में लोगों को कम ही जागरूक कर रहा है। जिसके चलते लोगों को जानकारी नहीं मिल पा रही। एजेंसियों ने नंबर किए जारी..

घर-घर से कचरा उठान के लिए जीबीएम ने टोल फ्री नंबर 18001232664 जारी किया है। घरों से उठान नहीं होने पर लोग अपनी शिकायत इस नंबर पर कर सकते है। इसके साथ ही वार्ड एक से 14 के लिए मोबाइल नंबर 7988593898, वार्ड 15 से 26 के लिए 7015088475 नंबर शिकायत कर सकते है। हर माह लगता है इतना जुर्माना

संबंधित एजेंसियों पर समय पर कचरा, टायलेट व सीवर समस्या का समाधान नहीं होने पर चार से पांच हजार रुपये जुर्माना लगाया जा रहा है। इससे पहले कचरे का उठान नहीं होने पर जेबीएम पर पहले 16 हजार रुपये का जुर्माना लग चुका है। यहां लगे रहते है कचरे के ढेर

शहर के सुखदेव नगर, अमर भवन चौक, सलारजंग गेट, काबड़ी रोड, सनौली रोड शिव चौक, किशनपुरा बाजार, बत्तरा कालोनी, कच्चा कैंप, तहसील कैंप आदि जगहों पर कचरे के ढेर लगे रहते हैं। समस्या का समाधान नहीं हुआ तो लगेगा जुर्माना

मुख्य सफाई निरीक्षक जितेंद्र नरवाल ने बताया कि स्वच्छ हरियाणा एप पर भी लोग शिकायत कर सकते है। अगर सही समय पर शिकायत का समाधान नहीं हुआ तो संबंधित एजेंसी को जुर्माना लगाया जाएगा। इसके साथ ही मोबाइल नंबर भी जारी किए हुए हैं।

Edited By: Jagran